प्रेरणादायक कहानी खुशी संसार मेँ नहीँ आपने अंदर है , Motivational Story Happiness is inside you
प्रेरणादायक कहानी खुशी संसार मेँ नहीँ आपने अंदर है , Motivational Story Happiness is inside you

प्रेरणादायक कहानी खुशी संसार मेँ नहीँ आपने अंदर है – Motivational Story Happiness is inside you

प्रेरणादायक कहानी खुशी संसार मेँ नहीँ आपने अंदर है – Motivational Story Happiness is inside you

             एक बार की बात है कि एक शहर (city) में बहुत अमीर सेठ (rich businessman) रहता था| अत्यधिक धनी होने पर भी वह हमेशा दुःखी (always sad) ही रहता था| एक दिन ज़्यादा परेशान होकर वह एक ऋषि (rishi) के पास गया और उसने अपनी सारी समस्या (tell him his whole situation) ऋषि को बताई | उन्होने सेठ की हुई बात ध्यान से सुनी (listen carefully) और सेठ से कहा कि कल (tomorrow) तुम इसी वक्त फिर (same time) से मेरे पास आना , मैं कल ही तुम्हें तुम्हारी सारी समस्याओं का (solve all your problems) हल बता दूँगा |

यह भी पढ़ें :- अगर स्वस्थ रहना चाहते हो तो रात के डिनर में यह 7 चीज़ें जरुर खाएं

यह भी पढ़ें :- जानिये क्या है कारण के जितनी मरजी कसरत कर लो या खाना कम कर लो फिर भी नहीं घटता वजन

               सेठ खुशी खुशी घर (go home happily) गया और अगले दिन जब फिर से ऋषि के पास आया तो उसने देखा कि ऋषि सड़क (road) पर कुछ ढूँढने (search) में व्यस्त (busy) थे| सेठ ने गुरु जी से पूछा कि महर्षि आप क्या (what are you searching for) ढूँढ रहे हैं , गुरुजी बोले कि मेरी एक अंगूठी (ring) गिर गयी है मैं वही ढूँढ रहा हूँ पर काफ़ी देर हो गयी है लेकिन अंगूठी (cant find the ring) मिल ही नहीं रही है|

              यह सुनकर वह सेठ भी अंगूठी ढूँढने (searching ring) में लग गया, जब काफ़ी देर हो गयी तो सेठ ने फिर गुरु जी से पूछा कि आपकी अंगूठी (where were you lost the ring) कहाँ गिरी थी| ऋषि ने जवाब दिया कि अंगूठी मेरे आश्रम (ashram) में गिरी थी पर वहाँ काफ़ी अंधेरा (darkness) है इसीलिए मैं यहाँ सड़क (road) पर ढूँढ रहा हूँ| सेठ ने चौंकते (shock) हुए पूछा कि जब आपकी अंगूठी (ring lost in ashram)  आश्रम में गिरी है तो यहाँ क्यूँ ढूँढ रहे हैं| ऋषि ने मुस्कुराते (smiles) हुए कहा कि यही तुम्हारे कल के प्रश्न का (answer of your question) उत्तर है, खुशी तो मन में छुपी (inside you) है लेकिन तुम उसे धन में खोजने की (searching in money) कोशिश कर रहे हो| इसीलिए तुम दुःखी (sad) हो, यह सुनकर सेठ ऋषि के पैरों (lays down in feet) में गिर गया|

यह भी पढ़ें :- जानिये योग से जुड़ी ऐसी बातें है जो आप शायद नहीं जानते

यह भी पढ़ें :- जानिये क्या है महिलाओं के बारे में पुरुषों के मन में कुछ गलतफहमियां

यह भी पढ़ें :- जानिये सिगरेट पीने से भी ज्यादा हानिकारक होती हैं लोगो की यह आदतें

              तो मित्रों, यही बात हम लोगों पर भी लागू (this is for us too) होती है जीवन भर (whole life) पैसा इकट्ठा (collecting and saving money) करने के बाद भी इंसान खुश नहीं (Still not happy) रहता क्यूंकि हम पैसा कमाने में इतना मगन (desperate) हो जाते हैं और अपनी खुशी आदि (forgetting rest of the things) सब कुछ भूल जाते हैं |”

Kahani, kahaniya, hindi kahaniya, hindi kahani, stories in hindi, kahaniyan, motivational and inspirational kahaniya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

       

       
x

Check Also

Unknown Failures Stories of Successful People , सफल लोगों की असफलता की अनकही और अनसुनी कहानियां

Unknown Failures Stories of Successful People – सफल लोगों की असफलता की अनकही और अनसुनी कहानियां

Unknown Failures Stories of Successful People – सफल लोगों की असफलता की अनकही और अनसुनी ...