Unknown Failures Stories of Successful People , सफल लोगों की असफलता की अनकही और अनसुनी कहानियां
Unknown Failures Stories of Successful People , सफल लोगों की असफलता की अनकही और अनसुनी कहानियां

Unknown Failures Stories of Successful People – सफल लोगों की असफलता की अनकही और अनसुनी कहानियां

SEMrush

Unknown Failures Stories of Successful Peopleसफल लोगों की असफलता की अनकही और अनसुनी कहानियां

हम में से ज्यादातर लोग, असफल (fail) होने पर इतने निराश (sad) हो जाते हैं कि हार (quit) मान लेते हैं। उन्हें लगता हैं कि ऐसा उनके साथ ही क्यों हुआ? लेकिन हमें यह समझना होगा कि सफलता (success) तक पहुँचने का रास्ता असफलता की गलियों (roads of failure) से ही गुजरता हैं| दुनिया में कोई भी सफल व्यक्ति (successful person) ऐसा नहीं होगा जिसने असफलता का सामना न किया हो | अगर विश्वास न हो तो विश्व के इन सफल व्यक्तियों (famous world personalities) की असफलताओं की कहानी पढ़िए –

हेनरी फोर्ड – Henry Ford

फोर्ड मोटर कंपनी (for motor company) आज विश्वविख्यात है। इस कंपनी को उसका नाम संस्थापक हेनरी फोर्ड (founder henry ford) के नाम से मिला है, जो अमेरिका के सबसे बड़े उद्योगपति (richest businessman of america) में से एक थे। लेकिन हेनरी फोर्ड हमेशा (not always) से ही सफल उद्योगपति नहीं थे।

उनकी शुरुआत (start) असफलताओं और चुनौतियों (challenges) से हुई थी| पहले उनकी 2 कम्पनियाँ शुरू होने के कुछ समय के अन्दर ही विफल (failure) हो चुकी थी। लेकिन इन असफलताओं (failure) ने उन्हें अपनी अगली और सफल कंपनी “फोर्ड मोटर्स” को शुरू करने से नहीं रोका। वे मोटरकार बनाने में असेंबली लाइन का प्रयोग करने वाले सबसे पहले उद्योगपति थे जिन्होंने कार उद्योग में क्रांति ला दी थी।

12 नुस्खे यात्रा के वक्त तरोताज़ा दिखने के

खरीदे हिंदी प्रेरणादायक कहानी की किताबें Click Here To Buy Hindi Motivation Books

अब्राहम लिंकन – Abraham Lincoln

दृढ मनोबल (strong moral) किसे कहते है, उसे जानने के लिए हमें अब्राहम लिंकन के जीवन पर (life of Abraham Lincoln) नजर डालनी चाहिए जो कि अमरिका के महानतम राष्ट्रपतियों (Americas successful president) में से एक माने जाते है। लेकिन राष्ट्रपति बनने से पहले उन्होंने अनगिनत असफलताओं (countless failures) का सामना किया।

1832 में उन्होंने अपनी नौकरी गंवाई (lost job) और विधान सभा का चुनाव हारे (lost in election)। अगले ही साल वे अपने बिजनेस में (business failure) फ़ैल हुए। 1834 में फिर से चुनाव लड़ने पर विधान सभा का चुनाव जीत गए लेकिन 1835 में उनकी पत्नी की मृत्यु (death of her wife) हो गयी। 1836 में उन्होंने मानसिक हताशा (mental stress) की बीमारी का सामना किया। 1838 में वे Illinois House Speaker का चुनाव हारे। 1843 में कांग्रेस के नामिनेशन (nomination) के लिए नहीं चुने गए| 1849 में उनका भूमि अधिकरण (land acquire) ख़ारिज कर दिया गया| 1854 में लिंकन सीनेट का चुनाव (lost senate election) हार गये| 1856 में वे उपराष्ट्रपति (vice president) के लिए नहीं चुने गए| 1858 में वे फिर से उपराष्ट्रपति का चुनाव (again lost in election) हार गए|

लेकिन फिर भी 1860 में वे अमेरिका के राष्ट्रपति (American president) बन गए| दुनिया में न के बराबर ऐसे नेता होंगे, जो इतने चुनाव हारने के बावजूद राष्ट्रपति के रूप सर्वोच्च पद (biggest post) के लिए चुने गए| अब्राहम लिंकन ने यह साबित (proved) किया है कि आप तब तक नहीं हारते (you are not losing till you are trying) जब तक आप प्रयास करना नहीं छोड़ते

नेल्सन मंडेला – Nelson Mandela

 “अपने नसीब का मालिक (owner) मैं खुद हूँ – अपनी आत्मा का कप्तान (captain) मैं खुद हूँ!”

इसी वाक्य (this sentence) ने नेल्सन मंडेला को साउथ अफ्रीका (south Africa) के राष्ट्रपति के पद तक पहुँचाया। अपने आदर्शों और अन्याय के खिलाफ कभी हार न मानने के स्वभाव (nature of never loosing) को ले कर नेल्सन मंडेला करोड़ों लोगों के लिए (motivation of millions of peoples) प्रेरणास्त्रोत हैं| अगर उनके जीवन पर नजर डाले तो आपको एक लंबे समय (long time) तक किया गया संघर्ष (struggle) नजर आएगा। राष्ट्रपति का पद का पाना उनके लिए (not easy) आसान नहीं था। मंडेला ने करीब 27 साल तक संघर्ष किया और अपनी आधी जिंदगी spend half life in jail) उन्होंने जेल में गुजारी।

यह भी पढ़ें :- जानिये मॉडर्न दौर के स्टाइलिश और ट्रेंडी वर्कआउट्स

खरीदे हिंदी धार्मिक कहानी की किताबें – Click Here To Buy  Dharmik Books

जे. के. रोलिंग – J K Rowling

 हैरी पॉटर (harry potter) आज सबसे सफल उपन्यासों (successful Fantasy Novel) से एक मानी जाती है। इस कहानी (story) पर कई सारी हॉलीवुड फिल्मे (hollywood movies) भी बन चुकी है। इस कथाओं की लेखिका (writer) का नाम जे. के. रोलिंग है। क्या आप यकिन (did you believe) करेंगे की एक समय वे पूरी तरह से निराश, हताश, कंगाल और तलाकशुदा (divorced) थी। सबसे पहली हैरी पॉटर कहानी को लिखते समय वे एक आश्रय स्थान (shelter) पर रह रही थी| उनकी इस नॉवेल (novel) को 12 प्रकाशको (publishers) ने नकार दिया। ऐसे वक्त में कोई भी टूट (anyone can break in this situation) सकता हैं लेकिन जे. के. रोलिंग ने निष्फलता को नकारते हुए अपने प्रयास (continue trying) जारी रखे जिसका परिणाम आज (we can see result) हम देख रहें हैं|

स्टीव जॉब्स – Steve Jobs

क्या आप सोच सकते (can you think) है कि एक ऐसा व्यक्ति जिसके पास रहने के लिए कमरा नहीं था (no room for living) और इसलिए वो दोस्तों के घर पर फर्श (sleeping on friends floor) पर सोता था| जो अपना पेट भरने के लिए मंदिर में भोजन (eating food in mandir) करता था वो व्यक्ति दुनिया की सबसे सफल मोबाइल (successful mobile and computer company) और कम्प्यूटर कंपनी का संस्थापक (founder) बन सकता है? यही कहानी है Apple कम्पनी के संस्थापक स्टीव जॉब्स (steve jobs) की। एक समय उनके पास रहने के लिए (no more for food and house) घर और खाने के लिए पैसे नहीं थे। एक समय तो ऐसा भी आया उन्हें अपनी खुद की कंपनी से ही निकाल (thrown away from his own company) दिया गया लेकिन अपने निरंतर प्रयासों (continue tries) द्वारा उन्होंने अपने सपने को साकार किया।

SEMrush

नबाबी शहर के टुण्डे – Nawabi Shahar ke Tunde

खरीदे हिंदी पड़ने लिखने, बिजनेस में सफलता की कहानियों की किताबें Click Here To Buy Topper Motivation Books in Hindi

अल्बर्ट आइंस्टीन – Albert Einstein

दुनिया के सबसे बुद्धिमान व्यक्तियों (intelligent peoples) में से एक अल्बर्ट आइंस्टीन को बचपन में मंद बुद्धि (dull mind boy) बालक माना गया था। उनके शिक्षक (teacher) ने उन्हें पढाई छोड़ने की सलाह (suggestion) दी थी और कह दिया था – “तुम कुछ कर नहीं पाओगे”|

काफी बड़ी उम्र तक बोलना एवं लिखना न सिख (can’t speak and write) पाने वाले इस व्यक्ति को दुनिया का सबसे महान वैज्ञानिक (great scientist) माना गया और इन्होने 1921 में भौतिकशास्त्र में नोबेल प्राइज (win nobel prize) जीता|

एन. आर. नारायण मूर्ति – N. R. Narayana Murthy

भारतीय कंपनी इन्फोसिस (Indian company Infosys) के संस्थापक नारायण मूर्ति (Sh. Narayana Murthy) ने सही माइने में शून्य से (starts from zero money) शुरुआत की थी| इन्फोसिस की शुरुआत के लिए उन्होंने अपनी पत्नी से 250 डॉलर उधार (borrow 250$ from her wife) मांगे थे। शुरूआती दिनों में इस आईटी कंपनी (IT company) में फोन जैसी बुनियादी सुविधाएँ (basic facilities) भी नहीं थी। एक समय ऐसा भी आया जब यह कंपनी बंद होने की (company was going to close) कगार पर थी। लेकिन मूर्ति ने आशा नहीं छोड़ी (never loose hop) और इनफ़ोसिस के द्वारा भारत की पूरी आईटी इंडस्ट्री  (change the IT industry of india) को ही बदल के रख दिया।

जानिये बुद्धि बढ़ाने के हैं यह 8 बेहतरीन तरीके

खरीदे हिंदी सेक्स की कहानी की किताबें – Click Here To Buy Sex Books in Hindi

थॉमस एडिसन – Thomas Alva Edison

 क्या आप 1000 बार असफलता (failure) प्राप्त करने के बाद सफलता की आशा (hope of success) कर सकते है? एक इंसान ने की थी, जिसकी बदौलत हमारे जीवन में (light in our life) आज उजाला है।

यह इंसान है थॉमस अल्वा एडिसन। हम इन्हें सिर्फ लाईट बल्ब (not just light bulb) ही नहीं परंतु और भी कई महत्त्वपूर्ण खोजों (various important inventions) के लिए जानते है।इन्होने सफलतापूर्वक लाईट बल्ब बनाने से पहले 1000 निष्फल प्रयत्न (failed tries) किये थे| बचपन में इन्हें उनके शिक्षक (his teacher) द्वारा बताया गया था की वे कभी भी जीवन में आगे नहीं बढ़ (cant grow in his life) पायेंगे, क्योंकि उनका दिमाग (weak from brain) कमजोर है| आज उस शिक्षक का नाम (name of teacher) किसी को याद नहीं, लेकिन एडिसन को सभी लोग (people knows edison) जानते है।

वाल्ट डिज्नी – Walt Disney

आज डिज्नी कंपनी (Disney company) का नाम कौन नहीं जानता! इस कंपनी के कार्टून – cartoon (जैसे मिकी माउस (mickey mouse), डोनाल्ड डक (Donald duck) इत्यादि) और फ़िल्में दुनियाभर में (famous in whole world) मशहूर है।

इस कंपनी के स्थापक स्वर्गीय वाल्ट डिज्नी है। इनकी जिंदगी (life) के बारे में बहुत कम लोगों को मालूम है। 16 साल की उम्र में उन्हें स्कूल (thrown from school) से निकाल दिया गया था। आर्मी में उन्हें नौकरी नहीं (not get job in army) मिल पायी क्योंकि उनका कद छोटा (short height) था। काफी मशक्कतों (struggle) के बाद उन्हें एक अखबार (newspaper) में बतौर कार्टूनिस्ट नौकरी (job of cartoonist) मिली थी। लेकिन वे कम में संतोष (not satisfied in small) पाने वाले व्यक्ति नहीं थे। उन्होंने अपने भाई (with his brother) के साथ मिलकर एक फ़ैल हो रही कंपनी “Laugh o Gram” को खरीद (bought) लिया। इस कंपनी को उन्होंने एक स्वप्न में बदल (change in dreams) दिया जिसे हम आज डिज्नी (Disney) के नाम से जानते है!

यह भी पढ़ें :- जानिये कौन कौन से आहार है महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए| Jaaniye kaun kaun se ahaar hai mahilaon ke swasthya ke liye

खरीदे हिंदी तंतर मंतर, काला जादू की किताबें  – Click Here To Buy Tantra Mantra

स्टीफन किंग- Stephen King

16 साल की उम्र में बुरी तरह से शराब (habit of alcohol) की लत में फंसे। 30 बार उनकी लिखी गई कहानी (ignored their story) को नकारा गया। 31 वी बार असफल (fail) होने पर अपनी इस कहानी को फेंक दिया था। इस व्यक्ति का भविष्य (future of the person) क्या हो सकता है? हम बताते है आपको!

यह व्यक्ति आगे जाकर एक महान लेखक बने और उनका नाम है (Stephen king) स्टीफन किंग। अपनी पत्नी (wife) के जोर देने पर उन्होंने इस कहानी को एक बार और प्रकाशक (send to publisher) को भेजा। और उसके बाद मिली सफलता (get success) हमारे सामने है| स्टेफन किंग की पुस्तकें विश्व (worlds) की सबसे शानदार पुस्तकों (amazing books) में से एक हैं|

महान व्यक्ति (great person) और सामान्य व्यक्ति (normal person) में फर्क केवल उनकी सोच, नजरिये और विश्वास (believe) का होता है। महानता प्राप्त करने के लिए “कभी प्रयत्न न छोड़ने” की सोच (great thinking is important) जरुरी हैं। इन महान व्यक्तियों ने साबित (proves) किया हैं कि  “आपको तब तक कोई नहीं हरा सकता, जब तक की आप खुद से न हार जाओ”

SEMrush

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

       

       
x

Check Also

Semalt Expert Focuses On Referrer Spam From Darodar (Not Only) And How To Block It

Semalt Expert Focuses On Referrer Spam From Darodar (Not Only) And How To Block It

Semalt Expert Focuses On Referrer Spam From Darodar (Not Only) And How To Block It ...