अयोध्या के बारे में 27 ऐतिहासिक रोचक तथ्य | 27 Facts on Ayodhya
Dharmik Facts in Hindi Ramayan

अयोध्या के बारे में 27 ऐतिहासिक रोचक तथ्य | 27 Facts on Ayodhya

अयोध्या के बारे में 27 ऐतिहासिक रोचक तथ्य | 27 Facts on Ayodhya

अयोध्या (Ayodhya) उत्तर प्रदेश राज्य का एक प्रसिद्ध नगर है, रामायण (Ramayan) के अनुसार अयोध्या (Ayodhya) की स्थापना मनु ने की थी। यह नगरी बहुत ही खूबसूरत (very beautiful) है, तो आइये friend हम भी इस beautiful नगरी का लुफ़्त उठाते हुए इस city से जुडी हुई रोचक जानकारी जानते है!

7 वजह क्यों है नौकरी बिज़नेस से बेहतर

Amazing Facts About Ayodhya In Hindi | अयोध्या के बारे में रोचक तथ्य

Interesting Facts About Ayodhya

1.सरयू नदी (Saryu Nadi) के तट पर बसे इस नगर की रामायण (Ramayan) के अनुसार विवस्वान (सूर्य) के पुत्र वैवस्वत मनु महाराज (Maharaj) द्वारा स्थापना की गई थी। माथुरों के इतिहास (history) के अनुसार वैवस्वत मनु लगभग 6673 ईसा पूर्व हुए थे।

  1. अयोध्या (Ayodhya) शब्द का अर्थ होता है, जिससे युद्ध (war) ना किया जा सके। अपराजेय।
  2. अयोध्या (Ayodhya) में भगवान राम (bhagwan ram) के अलावा 5 जैन तीर्थंकरों (ऋषभानंद, आदिनाथ, अजीतानंद, अभिनंदननाथ, अनंतनाथ) का भी जन्म (birth) हुआ था। इसलिए अयोध्या (Ayodhya) जैन समाज के लिए भी एक तीर्थस्थल (Tirthsthal) है।
  3. थाईलैंड (Thailand) में अयुथ्या तथा इण्डोनेशिया (Indoneshia) में योग्यकर्ता नामक शहरों को भी अयोध्या (Ayodhya) की ही तरह वहाँ के लोग भगवान राम (bhagwan ram) की जन्मस्थली मानते हैं।
  4. अयोध्या (Ayodhya) में भगवान महावीर जैन तथा भगवान बुद्ध (bhagwan budh) ने भी बहुत समय बिताया था। उस समय अयोध्या (Ayodhya) में अनेकानेक प्रवासी आते थे, जिससे उन्हें भ्रमण (visit) करने की आवश्यकता नहीं पड़ती थी।
  5. बौद्ध (budha) तथा जैन धर्मग्रंथों, पाणिनी द्वारा रचित अष्टाध्यायी और पतंजलि (patanjali) द्वारा रचित ग्रंथों में साकेत नामक शहर (city) का उल्लेख मिलता है। माना जाता है कि साकेत अयोध्या (Ayodhya) का ही दूसरा नाम था।
  6. कुछ इतिहासकारों (hisotirans) के अनुसार अयोध्या (Ayodhya) की स्थापना गुप्त काल में स्कंदगुप्त (skandgupt) द्वारा की गई थी। हालाँकि यह भी कहा जाता है कि उन्होंने अयोध्या (Ayodhya) का पुनर्विकास किया था।
  7. 1226 में अयोध्या (Ayodhya) दिल्ली सल्तनत के अधीन हो गई। तब वर्तमान शासक ने हिन्दू धर्म (hindu religion) के विकास को रोकने के लिए अयोध्या (Ayodhya) के मंदिरों पर कर (tax) लगा दिया था। ये कर 1707 में सआदत अली खान (sadat ali khan) ने हटाए। सआदत अली खान ने हिन्दू सैनिकों (hindu soldiers) के समर्थन से औरंगजेब का तख्तापलट किया था।
  8. राममंदिर (Ram Mandir) विवाद सर्वप्रथम सन् 1850 में शुरु हुआ था, जब कुछ हिन्दुओं ने मस्जिद को विध्वंस (destroy) करने की मुहिम छेड़ी थी। हालाँकि अंग्रेजों (foreigners) ने फिर कभी इस प्रकार के आंदोलनों को हवा नहीं लगने दी।
  9. 6 दिसंबर, 1992 को तथाकथित कारसेवकों ने मस्जिद का विध्वंस (destroy) कर दिया। यह केस सुप्रीम कोर्ट (supreme court) में होने की वजह से मैं इसपर अधिक टिप्पणी नहीं करूँगा। हालाँकि आज यानि के 09/11/2019 को राम जनम भूमि हिन्दू भाइयो को भेंट कर दी गयी है और मस्जिद के लिए अलग से पांच एकड़ जमीन देने की घोषणा कर दी गयी है!
  10. 2005 में 5 आतंकियों ने राम जन्मभूमि (Ram Janam Bhumi) स्थल पर हमला कर दिया था। लश्कर-ए-तैयबा (lashkar) के इन आतंकियों ने मस्जिद (masjid) के बदले के रूप में इस हमले को अंजाम दिया था।
  11. रामायण (Ramayan) के अनुसार अयोध्या (Ayodhya) की स्थापना मनु ने की थी।
  12. रामायण (Ramayan) में अयोध्या (Ayodhya) का उल्लेख कोशल जनपद की राजधानी (capital) के रूप में किया गया है।
  13. वेद का यह श्लोक (अष्टचक्रा नवद्वारा देवानां पूरयोध्या) इस बात को बताता है, कि अयोध्याAyodhya ईश्वर का नगर (city) है।
  14. अयोध्या (Ayodhya) नगरी सरयू के तट पर बसी हुई है, इसकी लम्बाई (length) बारह योजन (144 कि.मी.) और चौड़ाई तीन योजन (36 कि.मी.) है।
  15. भगवान राम (bhagwan ram) के साथ-साथ अयोध्याAyodhya में और अन्य सात प्राकट्य हुये हैं जैसे : गुप्तहरि , चक्रहरि , विष्णुहरि , पुण्यहरि , धर्महरि, चन्द्रहरि और बिल्वहरि |
  16. अयोध्या (Ayodhya) में स्थित रामकोट पूजा का प्रमुख स्थान (major place) है।
  17. अयोध्या (Ayodhya) में स्थित हनुमानगढ़ी (Hanuman gadi) की ऐसी मान्यता है, कि हनुमान यहाँ एक गुफा (cave) में रहकर रामजन्मभूमि और रामकोट की रक्षा (safety) करते थे।
  18. हनुमान (Hanuman) के इस मंदिर में बाल हनुमान (Bal hanuman) के साथ अंजनि की प्रतिमा भी है।
  19. अयोध्या (Ayodhya) में स्थित राघवजी मंदिर में केवल भगवान राम (Bhagwan Ram) की ही मूर्ति है, यहाँ तक की माता सीता (Mata Sita) की भी मूर्ति नहीं है।
  20. ऐसा माना है, कि नागेश्वर नाथ मंदिर (Nageshwar Nath Mandir) को भगवान राम के पुत्र कुश ने बनवाया था।
  21. हनुमान गढ़ी (Hanuman Gadi) के निकट स्थित कनक भवन अयोध्याAyodhya का एक महत्वपूर्ण मंदिर है। यह मंदिर (mandir) सीता और राम के सोने मुकुट पहने प्रतिमाओं के लिए लोकप्रिय (famous) है, इस मंदिर को सोने का घर (golden home) भी कहा जाता है।
  22. राम (Shri Ram) के समय में, यह नगर अवध नाम की राजधानी (capital) से सुशोभित था। वैसे भी अगर देखा जाए तो यह अयोध्याAyodhya नगरी रघुवंशी राजाओं की बहुत पुरानी राजधानी (old capital) थी।
  23. अयोध्या (Ayodhya) के एक मंदिर में एक राम नाम (Shri Ram Naam) पत्थर रखा हुआ है, जो पानी में तैरता है।
  24. हिन्दुओं (Hindu) के मंदिरों के अलावा अयोध्याAyodhya जैन मंदिरों के लिए भी खासा लोकप्रिय (very famous) है।
  25. अयोध्याAyodhya में एक राम नाम बैंक (Shri Ram Naam Bank) है, इस बैंक में लोग राम- राम लिखकर जमा करवाते है।
  26. यहाँ पर वर्ष (every year) में तीन मेले लगते हैं – मार्च-अप्रैल में, जुलाई-अगस्त में तथा अक्टूबर-नंवबर के महीनों में।
  27. बौद्ध ग्रन्थों के अनुसार, अयोध्याAyodhya पूर्ववर्ती तथा साकेत परवर्ती राजधानी (capital) थी।

अंत में केवल इतना ही कहना चाहूँगा- जय श्री राम

दोस्तों, आप यह Article Prernadayak पर पढ़ रहे है. कृपया पसंद आने पर Share, Like and Comment अवश्य करे, धन्यवाद!!

क्या है टिक-टॉक? | What is Tik Tok?

Diwali Festival Stories in Hindi

Diwali Facts in Hindi

Diwali Stories in Hindi

Happy Diwali Facts in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *