कोरोना वायरस से जुडी हर जानकारी - Coronavirus
CoronaVirus Health India News Internet

कोरोना वायरस से जुडी हर जानकारी – Coronavirus

कोरोना वायरस से जुडी हर जानकारी

कोरोना वायरस – Coronavirus

China में नए कोरोना वायरस (Coronavirus) से बुधवार को मरने वालों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है, जबकि infection के मामलों में तेजी से इजाफा हुआ है और अब तक China में इसके करीब 444 मामले सामने आ चुके हैं।

सरकारी समाचार पत्र “China Daily” की खबर के अनुसार इस virus के कारण 17 लोगों की death हो चुकी है।

Coronavirus को लेकर India में भी सतर्कता बरती जा रही है। देश के सात हवाईअड्डों पर thermal screening की व्यवस्था की गई है।

China और हांगकांग से लौटे यात्रियों की थर्मल जांच की जाएगी। खतरा इसलिए भी अधिक बढ़ रहा है, क्योंकि ये virus एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भी जा सकता है।

China में इस virus से infected peoples की संख्या बढ़कर 1,000 हो चुकी है। यह नया कोरोना वायरस दिसंबर महीने में सबसे पहले China में पकड़ में आया था, लेकिन अब यह China की सीमा को पार करके दूसरे देशों में भी पहुंच गया है।

क्या है कोरोना वायरस – What is Coronavirus

Patients से लिए गए इस virus के सैंपल की जांच प्रयोगशाला में की गई है। इसके बाद China के अधिकारियों और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि यह एक कोरोना वायरस (coronavirus) है।

कोरोना वायरस (coronavirus) कई किस्म के होते हैं लेकिन इनमें से छह को ही लोगों को infected करने के लिए जाना जाता था। मगर नए virus का पता लगने के बाद यह संख्या बढकर सात हो जाएगी।

नए virus के genetic code के विश्लेषण से यह पता चलता है कि यह मानवों को infected करने की क्षमता रखने वाले अन्य कोरोना वायरस (coronavirus) की तुलना में ‘सार्स – Sars’ के अधिक निकटवर्ती है।

सार्स – Sars नाम के कोरोना वायरस (coronavirus) को काफी खतरनाक माना जाता है। सार्स – Sars के कारण China में साल 2002 में 8,098 लोग infected हुए थे और उनमें से 774 peoples की death हो गई थी।

  1. कोरोना वायरस (coronavirus) अब India तक पहुंच चुका है. Mumbai में संदिग्ध मामले सामने आए हैं. फिलहाल, उनका testing कराया जा रहा है. अब तक जानलेवा कोरोना वायरस (coronavirus) से China में 26 लोगों की death हो गई है, जबकि 830 लोग infected हैं.
  2. इसी बीच एक वीडियो Social Media पर वायरल हो रहा है जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि कोरोना वायरस (coronavirus) China की एक लड़की के जरिए फैला जिसने चमगादड़ खा लिया था.
  3. चमगादड़ को खाते और उसका soup पीते हुए लड़की का video viral हो रहा है. इस वीडियो के साथ यह message viral हो रहा है कि चमगादड़ खाने के बाद लड़की में कोरोना वायरस (coronavirus) पनपा, जो लोगों में फैल गया.
  4. वहीं, China के एक scientist ने यह दावा किया है कि कोरोनाvirus (Coronavirus) सांप और चमगादड़ के जरिए लोगों में फैला है.
  5. China के वुहान में ऐसे जीव-जंतुओं का बाजार है जहां सांप, चमगादड़, पक्षी, खरगोश, मैरमोट्स आदि बिकते हैं. इन जीवों को China के लोग खाते हैं.
  6. Scientist’s का मानना है चमगादड़ से फैलने वाला SARS (Severe Acute Respiratory Syndrome) का virus सांप के जरिए लोगों में फैला.
  7. मालूम हो कि China में कोरोना वायरस (coronavirus) के डर से वुहान समेत 9 cities को बंद कर दिया गया है. वुहान में 700 से अधिक Indian Students पढ़ाई करते हैं.
  8. इसके अलावा खाने को अच्छे से पकाएं, meat and eggs को भी पकाकर ही खाएं. जानवरों के contact में कम आएं.
  9. कोरोना वायरस के विश्व के 10 देशों में फैलने की confirmation हो चुकी है, कई देशों में इसके संदिग्ध मिल रहे हैं, इनमें India में भी दो संदिग्ध शामिलहैं. China में फैले virus की चपेट में नागरिक भी आ चुकी है.
  10. France में भी कोरोना वायरस (coronavirus) से infection के मामले सामने आए हैं, ऐसे में Europe में भी इसने दस्तक दे दी है.
  11. France में virus से infected मामलों की पुष्टि हुई है. यहां पहला मामला Southwestern City में पाया गया, वहीं दूसरा केस Paris में मिला है. जबकि तीसरा शख्स पीड़ितों का एक रिश्तेदार है.
  12. China ने अपने 15 शहरों के साढ़े चार करोड़ citizen’s के कहीं आने पर रोक लगा दी है. China की दीवार के एक part को बंद कर दिया गया है. Chinese government ने अब तक काफी लोगों के मरने की पुष्टि की है, और affected की संख्या 1,000 से अधिक बताई जा रही है.
  13. Specialist’s के अनुसार प्रभावितों की संख्या China में चार हजार से अधिक हो सकती है. Coronoavirus के स्रोत China में ऐसे शहरों की संख्या लगातार increase होती जा रही है जहां लोगों के transportation and trafficking पर रोक लगाई जा रही है.
  14. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने अब भी दुनिया के लिए emergency situation घोषित नहीं की है. उसने केवल China के लिए इसे emergency बताया है.
  15. India में भी सैकड़ों लोगों की जांच के बाद 12 लोगों को hospitals में भर्ती किया गया है. इनमें से सबसे ज्यादा 7 मरीज Kerala में हैं, 3 Mumbai and Hyderabad, बेंगलुरु में 1-1 मरीज हैं. ये लोग हाल ही में China और Hong Kong से लौटे हैं.
  16. Health Ministry के एक अधिकारी के अनुसार अभी तक different countries से आ रहे 96 विमानों के passengers’ की जांच की गई है. इन विमानों में सवार सभी यात्री Coronavirus से पूरी तरह safe पाए गए हैं.

क्या हैं कोरोना वायरस के लक्षण: Symptoms of Coronavirus

कोरोना वायरस (coronavirus) के Patients में जुखाम, खांसी, गले में दर्द, सांस लेने में दिक्कत, fever जैसे शुरुआती लक्षण (symptoms) देखे जाते हैं. इसके बाद ये लक्षण (symptoms) न्यूमोनिया में बदल जाते हैं और किडनी को नुकसान पहुंचाते हैं. फेफड़े में गंभीर किस्म का infection हो जाता है.

अभी तक इस virus से निजात पाने के लिए कोई वैक्सीन नहीं बनाई गई है. लेकिन इसके symptoms के आधार पर ही चिकित्सक इसके इलाज में दूसरी जरूरी medicines का उपयोग कर रहे हैं. हालांकि अब इसकी medicine भी खोजी जा रही है.

कोरोना वायरस के लक्षण – Symptoms of Coronavirus

  • सिरदर्द – Headache
  • नाक बहना
  • खांसी
  • गले में ख़राश
  • बुखार
  • अस्वस्थता का अहसास होना
  • छींक आना, अस्थमा का बिगड़ना
  • थकान महसूस करना
  • निमोनिया, फेफड़ों में सूजन

कितना गंभीर है ये कोरोना वायरस ? – How serious is this coronavirus

कोरोना वायरस (coronavirus) के कारण अमूमन infected लोगों में सर्दी-जुकाम के लक्षण (symptoms) नजर आते हैं लेकिन असर गंभीर हो तो death भी हो सकती है।

यूनिवर्सिटी ऑफ एडिनबर्ग के प्रोफेसर मार्क वूलहाउस का कहना है कि जब हमने ये नया कोरोना वायरस (coronavirus) देखा तो हमने जानने की कोशिश की कि इसका असर इतना खतरनाक क्यों है? यह आम सर्दी जैसे लक्षण (symptoms) दिखाने वाला नहीं है, जो कि चिंता की बात है।

ये हैं बचाव के उपाय – Coronavirus Prevention Measures

कोरोना वायरस से बचाव – Coronavirus safety Measures

विभिन्न रिपोर्टों के अनुसार, कोरोना वायरस (coronavirus) को रोकने के लिए सबसे अच्छी नीति समुद्री भोजन से बचना है.

कोरोना वायरस (coronavirus) से बचाव को लेकर अभी तक कोई वैक्सीन नहीं बनी है. कहीं भी बाहर से आने या कुछ भी खाने से पहले अपने हाथ अच्छी तरह साफ करें. साफ सफाई बहुत जरूरी है.

कोरोनvirus को रोकने के लिए कोई टीका उपलब्ध नहीं है, इसलिए डॉक्टर जोखिम को कम करने के लिए अन्य महत्वपूर्ण दवाओं का उपयोग कर रहे हैं.

कोरोनो virus अगर लंबे समय तक अपना प्रभाव बनाए रखने में सफल हो जाए या घातक स्तर पर पहुंच जाए तो जान के लिए खतरा पैदा कर सकता है.

कहां से आया नया कोरोना वायरस ? – Where did the new Coronavirus come from?

यह बिल्कुल नई किस्म का virus है। ये एक जीवों की एक प्रजाति से दूसरे प्रजाति में जाते हैं और फिर इंसानों को infected कर लेते हैं। इस दौरान इनका बिल्कुल पता नहीं चलता।

नॉटिंगम यूनिवर्सिटी के एक वायरोलॉजिस्ट प्रोफेसर जोनाथन बॉल के मुताबिक यह बिल्कुल ही नई तरह का कोरोना वायरस (coronavirus) है। बहुत हद तक संभव है कि पशुओं से ही इंसानों तक पहुंचा हो।

सार्स – Sars का virus बिल्ली जाति के एक जीव से इंसानों तक पहुंचा था। हालांकि China की ओर से अभी तक इस मूल स्रोत के बारे में कुछ भी पुष्ट तौर पर नहीं कहा गया है।

MERS और SARS कोरोना वायरस (coronavirus) के रूप मध्य पूर्व श्वसन सिंड्रोम, जिसे एमईआरएस (MERS) virus के रूप में भी जाना जाता है का हमला पहली बार 2012 में मध्य पूर्व देशों में देखा गया था। इससे श्वसन संबंधी समस्याएं होती हैं, लेकिन लक्षण (symptoms) बहुत अधिक गंभीर होते हैं।

MERS से infected हर 10 में से तीन से चार रोगियों की मृत्यु हो गई थी। गंभीर तीव्र श्वसन सिंड्रोम, जिसे सार्स – Sars (Severe Acute Respiratory Syndrome या SARS) के रूप में भी जाना जाता है, एक अन्य किस्म का कोरोना वायरस (coronavirus) है जो अधिक गंभीर लक्षण (symptoms) पैदा कर सकता है।

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, दक्षिणी China के गुआंगडोंग प्रांत में पहली बार इसकी पहचान की गई थी। यह भी सांस संबंधी समस्याओं का कारण बनता है, लेकिन इसके कारण दस्त, थकान, सांस की तकलीफ, श्वसन संकट और गुर्दे की विफलता भी हो सकती है। रोगी की उम्र के आधार पर, सार्स – Sars के साथ मृत्यु दर 0-50% मामलों में थी।

कोरोना वायरस (coronavirus) कैसे फैलता है?

कोरोना वायरस (coronavirus) जानवरों के साथ मानव contact से फैल सकता है।

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, वैज्ञानिकों को लगता है कि MERS ने ऊंटों से निकल कर infected किया था, जबकि सार्स – Sars के प्रसार के लिए सिवेट बिल्लियों को दोषी ठहराया गया था।

जब Coronavirus के मानव-से-मानव संचरण की बात आती है, तो generally ऐसा तब होता है जब कोई व्यक्ति infected व्यक्ति के स्राव के contact में आता है। virus कितना वायरल है, इसके आधार पर खांसी, छींक या हाथ मिलाना risk का कारण बन सकता है।

किसी infected व्यक्ति के छूने और फिर अपने मुंह, नाक या eyes को छूने से भी virus का infection हो सकता है।

China के अधिकारी इस कोरोना वायरस मामले पर क्या कर रहे हैं?

Infected लोगों की एकल कक्ष में रखा गया है और उनकी testing अकेले में की जा रही है ताकि इस disease को और बढ़ने से रोका जा सके।

जिन-जिन जगहों से travelers गुजरेंगे उन-उन जगहों पर thermal scanners लगाए गए हैं ताकि जैसे ही किसी के बुखार की पुष्टि हो उसकी testing की जा सके।

इसके अलावा sea food market को फिलहाल के लिए बंद कर दिया गया है ताकि cleanliness बनी रहे और infection को कम किया जा सके।

यह व्यवस्था केवल China में ही नहीं की गई है। China के अलावा एशिया के कई other countries और America में भी इस तरह की व्यवस्था की गई है ताकि virus को फैलने से रोका जा सके।

विशेषज्ञ कितने परेशान हैं कोरोना वायरस से?

डॉक्टर का कहना है कि फिलहाल तो हमारे पास जो information है उसके लिहाज से exactly ये बता पाना की स्थिति कितनी stressful, चिंताजनक, मुश्किल है।

उन्होंने कहा के जब तक हमें इसके source का एकदम सटीक information नहीं चल जाता है, तब तक problem बनी ही रहेगी।

Professor का कहना है कि हमें हर उस virus को लेकर चिंतित, tension and stressful होने की जरूरत है जो इंसानों को infected कर रहा हो, वो भी खासतौर पर पहली बार। क्योंकि उसका treatment कैसे किया जाना है, रोकना है ये सबकुछ जानने में difficulty होती है।

23 Most Famous Bodyguard of All Time

FAQ Corona Virus – कोरोना वायरस से जुड़े सवाल और जवाब

China से ही क्यों शुरू हुआ कोरोना वायरस? – Why Corona virus started from China?

Population numbers और घनत्व के कारण यहां के लोग animal’s के contact में जल्दी आ जाते हैं। वो कहते हैं कि कोई हैरानी नहीं है कि China में ही आने वाले समय में कुछ ऐसा ही सुनना को मिले।

कहां से फैलना शुरू हुआ कोरोना वायरस ? – Where did the Coronavirus start spreading?

जैसा कि हमने ऊपर भी बताया कि Corona virus के मामले सबसे पहले China में देखने को मिले। दरअसल, China के Huwaei State के वुहान शहर में इसका effect सबसे पहले और सबसे deadly रूप में देखने को मिला।

China के अलावा Japan, Singapore, Thailand में भी कोरोना वायरस के patient मिल रहे हैं। हाल ही England में भी एक फैमिली के इस virus की चपेट में आने की report सामने आई है।

कोरोना वायरस क्या है? – What is Coronavirus?

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) के अनुसार, यह वाइरस sea food से जुड़ा है और इसकी शुरुआत China के हुवेई प्रांत के Huwaei शहर के एक sea food bazaar से ही हुई मानी जा रही है। खास बात यह है कि ये virus ना केवल इंसानों बल्कि animals को भी अपना शिकार बना रहा है।

क्या कोरोना वायरस एक से दूसरे इंसान में फैलता है? – Does the corona virus spread from one person to another?

कोरोना वायरस को लेकर हर रोज new updates आ रही हैं। पहले इस virus के बारे में कहा गया था कि यह इंफेक्टेड sea foodखाने से ही फैलता है। जबकि हाल ही में World health Organization (डब्ल्यूएचओ) ने इस बात की पूरी possibility जताई है कि यह virus परिवार के लोगों में एक से दूसरे को फैल सकता है।

10th के बाद क्या करे और कौन सा सब्जेक्ट ले?

कोरोना वायरस के लक्षण क्या हैं? – Symptoms of Coronavirus?

कोरोना वायरस से infected व्यक्ति को सबसे पहले सांस लेने में दिक्कत, गले में दर्द, cough, cold और बुखार होता है। फिर यह fever निमोनिया का रूप ले सकता है और निमोनिया Kidney से जुड़ी कई तरह की problems को बढ़ा सकता है।

कोरोना वायरस का इलाज क्या है? – treatment of Coronavirus?

अभी तक सीधे तौर पर कोरोना वायरस पर attack करनेवाली कोई वैक्सीन market में नहीं आई है। लेकिन इसके symptoms के आधार पर डॉक्टर्स इसके इलाज में दूसरी जरूरी medicines का उपयोग कर रहे हैं। साथ ही साथ इसकी vaccine तैयार करने पर भी काम चल रहा है।

कोरोना वायरस से बचने के तरके क्या हैं ? – Ways to Avoid Coronavirus?

First and important बात है कि जब तक कोरोना वायरस का प्रकोप शांत नहीं हो जाता, इसलिए जितना हो सके sea food से दूर रहें।

  1. a) साफ-सफाई कोरोना वायरस से बचने का दूसरा और important way है। कहीं भी बाहर से आने या कुछ भी खाने से पहले अपने hand अच्छी तरह wash करें। सिर्फ पानी से नहीं बल्कि soap or hand wash से धोएं।
  2. b) अपने साथ hand sanitizer हमेशा रखें। जहां पानी से hand wash की व्यवस्था ना हो, वहां इसका use करें।
  3. c) Public transport का यूज करने के बाद hand clean किए बिना उन्हें अपने चेहरे और मुंह पर ना लगाएं।
  4. d) Infected peoples की देखभाल के दौरान अपनी safety का पूरा ध्यान रखें। अपनी नाक और मुंह को cover करके रखें। उनके इस्तेमाल किए हुए बर्तन और कपड़ों का use करने से बचें।

50 Interesting Facts about IPL in Hindi | IPL से जुड़े 50 रोचक तथ्य

क्या कोरोना वायरस से मृत्यु हो सकती है ? – Can corona virus cause death?

कोरोना वायरस अगर long time तक अपना bad effect बनाए रखने में सफल हो जाए या deadly level पर पहुंच जाए तो जान के लिए life risk पैदा कर सकता है। यह इस virus का दूसरी बार प्रकोप है और इस दौरान दुनियाभर में से death होने की news आ रही हैं।

दोस्तों, आप यह Article Prernadayak पर पढ़ रहे है. कृपया पसंद आने पर Share, Like and Comment अवश्य करे, धन्यवाद!!

6 Bhoot ki Kahani –  6 भूत की कहानी

American President Donald Trump Biography and Quotes in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *