जिंदगी में कहीं कुछ रह तो नहीं गया , is their anything left in life
Heart Touching Stories in Hindi Hindi Kahani Hindi Story Motivational Story In Hindi

जिंदगी में कहीं कुछ रह तो नहीं गया – is their anything left in life

जिंदगी में कहीं कुछ रह तो नहीं गया – is their anything left in life

जिंदगी में कहीं कुछ रह तो नहीं गया

3 महीने के बच्चे (baby) को दाई के पास रखकर जॉब (job) पर जानेवाली माँ (mother) को, दाई ने पूछा… कुछ रह तो नहीं गया ?

पर्स, चाबी (purse, key) सब ले लिया ना ?

अब वो कैसे (how) हाँ कहे ?

पैसे के पीछे (running behind money) भागते भागते… सब कुछ पाने की ख्वाईश (dreams) में वो जिसके लिये सब कुछ कर रही है ,

*वह ही रह गया है…..*

शादी (marriage) में दुल्हन को बिदा करते ही शादी का हॉल (marriage hall) खाली करते हुए दुल्हन (bride) की बुआ ने पूछा…”भैया, कुछ रह तो नहीं गया ना ?

चेक करो (check it properly) ठीक से ।

.. बाप चेक करने गया तो दुल्हन के रूम में कुछ फूल (dry flowers) सूखे पड़े थे।

बाप और बेटी की दिल को छू लेने वाली कहानी

प्रेरणादायक कहानी

सब कुछ तो पीछे रह गया…(everything is left behind)

25 साल जो नाम लेकर जिसको आवाज देता था (calling with love) लाड से…

वो नाम पीछे रह (name left behind) गया और उस नाम के आगे गर्व (proud) से जो नाम लगाता था, वो नाम भी पीछे रह गया अब …

“भैया, देखा ?

कुछ पीछे तो नहीं रह गया ?”

बुआ के इस सवाल पर आँखों में आये आंसू (tears) छुपाते बाप जुबाँ (tongue) से तो नहीं बोला….

पर दिल (heart) में एक ही आवाज (sound) थी…

*सब कुछ तो यही रह गया…* (everything is left here)

बडी तमन्नाओ(dreams)  के साथ बेटे (son) को पढ़ाई के लिए विदेश (study abroad) भेजा था और वह पढ़कर वही सैटल (settled there) हो गया ,

पौत्र जन्म (borth of grandson) पर बमुश्किल 3 माह का वीजा (visa) मिला था और चलते वक्त बेटे ने प्रश्न किया (son asked the question) सब कुछ चैक कर लिया कुछ रह तो नही गया ?

क्या जबाब देते कि (जिंदगी में कहीं कुछ रह तो नहीं गया)

*अब छूटने को बचा ही क्या है ….* (nothing is left now)

50 बिज़नेस आईडिया

How to Get Jobs at USA

60 वर्ष पूर्ण कर सेवानिवृत्ति (retired from army) की शाम पी ए (P.A) ने याद दिलाया चेक कर ले सर कुछ रह तो नही गया,

थोडा रूका और सोचा पूरी जिन्दगी (spend whole life their) तो यही आने- जाने मे बीत गई !

*अब और क्या रह गया होगा ?* (Now what left here)

 *”कुछ रह तो नहीं गया ?*

” शमशान (morgue) से लौटते वक्त किसी ने पूछा, नहीं कहते हुए वो आगे बढ़ा…

पर नजर फेर ली,

एक बार पीछे देखने (see behind) के लिए….पिता की चिता (fathers dead body) की सुलगती आग देखकर मन भर आया ।

भागते हुए गया , पिता के चेहरे की झलक (see face of son) तलाशने की असफल कोशिश (unsuccessful try) की और वापिस लौट आया ।

दोस्त (friends asked) ने पूछा… कुछ रह गया था क्या?

भरी आँखों (heavy eyes) से बोला…

*नहीं कुछ भी नहीं रहा अब…*

*और जो कुछ भी रह गया है वह सदा (with me always) मेरे साथ रहेगा* ।।

एक बार समय निकालकर (think) सोचे , शायद पुराना समय याद (maybe remember old time) आ जाए, आंखें भर आएं और *आज को जी भर जीने का मकसद (target) मिल जाए*।

…….मैं अपने सभी दोस्तों (friends) से ये ही बोलना चाहता हूँ……

*यारों क्या पता कब*

*इस जीवन की शाम (end of life) हो जाये……*

इससे पहले ऐसा हो सब को गले (hug all loving friends) लगा लो, दो प्यार भरी बातें (talk with them) कर लो…..

*ताकि कुछ छूट न जाये ….* (जिंदगी में कहीं कुछ रह तो नहीं गया)

SarkariResult.com क्या है?

ब्लैक फ्राइडे इतिहास और रोमांचक बातें | Black Friday History and Facts

Hindi Kahaniya   | Kahaniya in Hindi  | Pari ki Kahani  | Moral Stories in Hindi  | Parilok ki Kahani  | Jadui Pariyon ki Kahani | Pari ki Kahani in Hindi | Prernadayak Kahaniya | Motivational Stories in Hindi | Thumbelina Story in Hindi | Rapunzel ki Kahani | Cinderella ki Kahani | Bhoot ki Kahani | Pariyon ki Kahani | Jadui Chakki Ki Kahani | Short Moral Stories in Hindi | Prernadayak Kahani in Hindi for Students | Motivational Story in Hindi | Short Moral Story in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *