Bal Gangadhar Tilak ke 20 Prernadayak Suvichar | बाल गंगाधर तिलक के 20 प्रेरणादायक सुविचार

Bal Gangadhar Tilak ke 20 Prernadayak Suvichar | बाल गंगाधर तिलक के 20 प्रेरणादायक सुविचार

  1. अगर हम किसी भी देश (history of country) के इतिहास के अतीत में जाएं, तो हम अंत में मिथकों (myths) और परंपराओं के काल में पहुँच जाते हैं जो आखिरकार अभेद्य अंधकार (darkness) में खो जाता है।

  1. जीवन एक ताश (game of cards) के खेल की तरह है, सही पत्तों का चयन हमारे हाथ में नहीं है, लेकिन हमारी सफलता (success) निर्धारित करने वाले पत्ते खेलना हाथ में है।

  1. हम हमारे सामने सही रस्ते (right way) के प्रकट होने के इंतजार में अपने दिन खर्च (spend) करते हैं, लेकिन हम भूल (forget) जाते हैं कि रस्ते इंतजार करने के लिए नहीं, बल्कि चलने (walking) के लिए बने हैं।

  1. अगर आप रुके और हर भौंकने (barking dogs) वाले कुत्ते पर पत्थर फेंकेंगे तो आप कभी अपने गंतव्य (your target) तक नहीं पहुंचेंगे। बेहतर होगा कि हाथ में बिस्कुट (biscuit) रखें और आगे बढ़ते जाएं।

  1. मानव प्रक्रिया (human process) ही ऐसी है कि हम बिना उत्सवों के नहीं रह सकते! उत्सव (festive) प्रिय होना मानव स्वभाव है! हमारे त्यौहार (festival) होने ही चाहिएं।

  1. कर्तव्य पथ पर गुलाब-जल (rose water) नहीं छिड़का होता है और न ही उसमें गुलाब उगते हैं।

  1. भारत (india) को लहुलुहान किया जाता रहेगा जब तक केवल कंकाल (skeleton) अवशेष रहे… लोगों की पूरी जीवन शक्ति सोख ली जाती है और हमें गुलामी (slave) की एक क्षीण अवस्था में छोड़ दिया जाता है।

  1. जब लोहा गरम (metal getting hotel) हो तभी उस पर चोट कीजिये और आपको निश्चय ही सफलता (success) का यश प्राप्त होगा।

  1. आप केवल कर्म (hard work) करते जाईए, उसके परिणामों (results) पर ध्यान मत दीजिए।

  1. स्वराज मेरा जन्मसिद्ध (right from birth) अधिकार है, और मैं इसे लेकर रहूँगा।

  1. अगर भगवान (bhagwan) अस्पर्शयता बर्दास्त करता है, तो मैं उसे भगवान (bhagwan) नहीं कहूँगा।

  1. गांवों में सद्भाव को नष्ट (destroy) करने के लिए किसानों के नाम पर हस्तक्षेप और साहूकार के साथ धोखा (ditch) है।

  1. एक अच्छे अखबार (newspaper) के शब्द अपने आप बोल देते हैं।

  1. आप मुश्किल समय में खतरों और असफलताओं (difficulties) के डर से बचने का प्रयास मत कीजिए। वे तो निश्चित रूप से आपके मार्ग (way) में आएंगे ही।

15.प्रातः काल में उदय (sun rise) होने के लिए ही सूरज संध्या काल के अंधकार में डूब जाता है और अंधकार (darkness) में जाए बिना प्रकाश प्राप्त नहीं हो सकता।

  1. गर्म हवा (hot wind) के झोंकों में जाए बिना, कष्ट उठाए बिना, पैरों (foot) में छाले पड़े बिना स्वतंत्रता नहीं मिल सकती। बिना कष्ट (without pain) के कुछ नहीं मिलता।

  1. महान उपलब्धियां कभी भी आसानी (easily) से नहीं मिलती और आसानी से मिली उपलब्धियां महान (great) नहीं होती।

  1. मनुष्य का प्रमुख लक्ष्य भोजन (food) प्राप्त करना ही नहीं है, एक कौवा भी जीवित (live) रहता है और झूठन पर पलता है।

  1. अपने हितों की रक्षा (safty) के लिए अगर हम जागरक नहीं होंगे तो दूसरा कौन होगा? हमें इस समय सोना (sleep) नहीं चाहिए, हमें अपने लक्ष्य की पूर्ति के लिए प्रयत्न (try) करना चाहिए।

  1. किसी देश में विदेशी शासन (foreign ruler) का बना रहना, ये असफल शासन की निशानी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *