Top 10 Chanakya Niti in Hindi | चाणक्य की 10 बातें जो आपका जीवन बदल सकती है
Chanakya Niti

Top 10 Chanakya Niti in Hindi | चाणक्य की 10 बातें जो आपका जीवन बदल सकती है

Top 10 Chanakya Niti in Hindi | चाणक्य की 10 बातें जो आपका जीवन बदल सकती है

Chanakya Niti in Hindi

आचार्य चाणक्य (Acharya Chanakya) हमारे देश के एक ऐसे महान विद्वान रहे है जिनकी बताई गयी बातें (lessons) आज भी उतनी ही प्रासंगिक है जितनी उनके समय में थी. वे चाणक्य ही थे जिन्होंने अपनी कूटनीति के द्वारा साधारण चन्द्रगुप्त (chandragupt) को मगध का राजा (king) बना दिया था. चाणक्य ने ”चाणक्य नीति” (chanakya niti) नामक किताब लिखी. जिसमे ऐसी बातें बताई गयी है जो हमारे जीवन (life) को एक सार्थक मोड़ दे सकती है.

हमें जीवन जीने का सही रास्ता (right way) बताती है. हमें अपने जीवन में क्या करना है और क्या नहीं ? इनका बड़ा अच्छा वर्णन चाणक्य नीति (chanakya niti) में मिलता है. आचार्य चाणक्य की बताई गयी 10 बातें में आज यहाँ आपके साथ शेयर (share) कर रहा हूँ जो आपके जीवन में बड़ा परिवर्तन ला सकते है.

8 क्षेत्र जहां है नौकरी के खूब मौके – 8 Job Opportunities Area

एमबीए में काम आएँगी यह 6 टिप्स – 6 MBA Study Tips

मुर्ख लोगो से कभी विवाद करे : Avoid Argument with Stupid Peoples

चाणक्य (Acharya Chanakya) कहते है कि हमें कभी भी मुर्ख लोगो के साथ विवाद (argument) नहीं करना चाहिए. मुर्ख लोगो (stupid peoples) के पास बिलकुल भी समझदारी नहीं होती अगर आप उनसे विवाद (argument) करेंगे तो नुकसान आपका ही होगा. ऐसे लोगो के साथ बहस होने पर आपकी इज्जत (respect) कम हो जाएगी. ऐसे लोग आपको मानसिक तौर पर कमजोर (weak) कर सकते है. मुर्ख लोगो से विवाद से बचना हो तो चुप रहे और अपने विवेक (have patience) से काम ले. इसलिए कभी भी मुर्ख लोगो से विवाद न करे.

10 chanakya niti in hindi

अपनी कमजोरी किसी को बताये : Avoid Sharing Your Weakness

अधिकांश लोग (most of the peoples) अपने चहेतो को, अपने नजदीकी रिश्तो में अपनी कमजोरियां (weakness) उजागर कर देते है जो उन्हें बाद में बड़ी महंगी पड़ जाती है. जब आपका जन्म (birth) होता है तब आप सिर्फ अकेले होते है. पैदा होते ही आपके सांसारिक रिश्ते (relations) शुरू हो जाते है. समय के साथ आप कई गहरे रिश्ते में बध जाते हो. ऐसे में हम अपनी कमजोरी (weakness) अपने इन रिश्तो में बता देते है.

जो बाद में अन्य लोगो (other peoples) को भी पता चल जाती है. जो हमारे निजी जीवन (personal life) के लिए ठीक नहीं होता. हर व्यक्ति की कोई न कोई कमजोरी (weakness) जरुर होती है. ऐसे में कभी भी अपनी कमजोरी (weakness) किसी को भी न बताये. चाहे वह आपका दोस्त या आपकी पत्नी (wife) ही क्यों न हो. अपनी आत्मा के सम्मान (respect) के लिए इससे बचे.

10 chanakya niti in hindi

Top 10 Chanakya Niti in Hindi | चाणक्य की 10 बातें जो आपका जीवन बदल सकती है

111 Short Inspirational Quotes in Hindi  | 111 प्रेरणादायक कोट्स

आपका एक दोष आपके सभी गुणों को नष्ट कर सकता है : Your 1 Bad Habit Can Destroy Your Goodness

जीवन में ऐसे बहुत से उदाहरण (examples) देखने को मिलते है जब लोगो के पास सुख – सुविधा, धन – वैभव होने के बावजूद भी वे कोई ऐसी गलती (mistakes) कर देते है जिनसे उनका स्वर्ग जैसा जीवन नरक (hell) बन जाता है. यह किस कारण होता है – हमारे एक दोष (fault) के कारण. भले ही आपमें बहुत से गुण (quality) हो. आपका व्यवहार अच्छा हो, आप दयावान हो, आप समाजसेवी (social service) हो या आप पैसे वाले हो.

आपकी समाज (society) में बड़ी इज्जत है. लेकिन अगर आपके अंदर एक छोटा सा भी दोष (fault) होगा तो वह आपका जीवन (life) बर्बाद कर देगा. दोष जैसे – नशेबाजी करना, अय्याशी करना, घमंड (Attitude) करना या जुआ खेलना. इसलिए खुद में झाँक कर देखे की आपके अंदर कोई दोष (fault) तो नहीं है. अगर है तो उसे त्याग दे. वरना आपकी मेहनत (hard work) से बनायीं गई सारी इज्जत एक पल में ही मिटटी में मिल जाएगी.

10 chanakya niti in hindi

धन को सोचसमझ कर खर्च करे : Spend Money Wisely

यह वाक्य (sentence) आपने जरुर सुना होगा कि ”धन है तो जीवन है” बिना धन के तो हम सब कंगाल (poor) है. बात बिलकुल पते की है. बिना धन (without money) के न इज्जत है न ही सुख – समृद्धि. धन हमारे जीवन में खास रोल (important role) अदा करता है.

कई ऐसे लोग होते है जो इस धन (money) का बड़ा दुरूपयोग करते है. वे बड़ी म्हणत से खून – पसीना लगाकर पैसा कमाते (earning money) है और फिर उस पैसो को धुंए (fog) की तरह उड़ा देते है. अधिकतर लोग ऐसे मैंने देखे है जो दिनभर मजदूरी (hard work whole day) करते है और शाम होते ही शराब पीकर उस कमाई को बर्बाद (ruin) कर देते है.

बर्बाद ही करना है तो फिर मेहनत (hard work) करने का फायदा क्या ?. अगर आपके पास अधिक पैसा भी हो तो उसे भी तरीके के साथ खर्च (spend) करे. समय का कुछ पता नहीं कि कब पलट (change) जाए. आचार्य चाणक्य (Acharya Chanakya) की यह लाइन याद रखे ” कुबेर भी अपने आय से ज्यादा खर्च (spend) करेगा तो कंगाल हो जायेगा “. इसलिए धन कमाए उसकी बचत (save money) करे और जब जरुरत हो तभी खर्च करे.

10 chanakya niti in hindi

बदनामी से डरे : Be Afraid of Insult

आचार्य चाणक्य (Acharya Chanakya) कहते है कि ” अपमानित हो के जीने से मरना (dead) अच्छा है. मृत्यु तो बस एक क्षण का दुःख देती है, लेकिन अपमान (insult) हर दिन जीवन में दुःख लाता है ”. हम सभी के अंदर बदनामी का डर (fear of insult) होना चाहिए. अगर यह डर खत्म हो गया तो दुनिया (world) बदहाल हो जाएगी. जीवन का सबसे बड़ा दुःख बदनाम (insult) होना होता है. यह आदमी को जीते जी हर पल (every moment) मरवाती है.

यह होता तब है जब हमारी आत्मा (soul) भी हमसे कहती है कि आप गलत हो और आपने गलत (wrong) किया. ज़िन्दगी में कोई ऐसा काम न करे जिससे आपको पूरी ज़िन्दगी (whole life) बदनामी से जीनी पड़े. एक बार अगर आप बदनाम (infamous) हो गये तो फिर वापस आप लोगो की नजरो (respect) में पहले जैसे नहीं रहोगे. इसलिए जीवन में कोई भी बड़ा कदम (step) लेने से पहले हजार बार जरुर सोचे.

Aarti Shri Ramayan Ji Ki

Shri Hanuman Chalisa

10 chanakya niti in hindi

आलस्य को त्याग दे : Quit Procrastination

इस दुनिया (world) में बस 20% लोग ही ऐसे होते है जो सफलता की केटेगरी (category) में आते है. पर दूनिया में लोग तो 100% है तो आखिर ये 80% लोग सफल (successful) क्यों नहीं होते ? अब आप कहोगे की इन्हें अच्छी परवरिश (upbringing) मिली होगी या इनके बाप – दादा अच्छे घर से होंगे. नहीं गलत, आज ऐसे कई उदाहरण (example) है जहाँ लोगो ने जमीन से आसमान की बुलंदियां छुई है.

ऐसे लोग जो गरीब (poor) जीवन जीते हुए बहुत अमीर बन गये. इन सब में एक बड़ा difference है आलस्य का. 80% लोग किसी को करने में आलस्य (procrastination) करते है वही 20% लोग उसी काम को बड़ा मन लगाकर करते है. इसलिए जीवन बेहतर (better life) और खुशहाल बनाना है तो आलस्य त्यागो और परिश्रम (hard work) करना सीखो. याद रखो ” आलसी मनुष्य का कोई भी वर्तमान (present) और भविष्य नहीं होता.

10 chanakya niti in hindi

40 Motivational Quotes For Students in Hindi | स्टूडेंट्स के लिए 40 शक्तिशाली कोट्स

26 Motivational Story In Hindi

जो बात सुने उस पर विश्वास करे : Avoid Believing Those Who Don’t Listening You

आपने कई लोगो (peoples) को देखा होगा जो आपके साथ बैठे रहते है. आपसे बाते (gossiping) करते है. आपने अपनी कोई महत्वपूर्ण (important) बात रखी और वह उसे गौर से सुनने के बजाय अनदेखा (ignore) करे तो समझ ले की यह इन्सान आपको धोखा (ditch) जरुर देगा. ऐसे लोगो पर विश्वास करने से बचे. इन लोगो को सिर्फ वही बात बताये जिन्हें आप हर किसी के साथ शेयर (share) कर सकते हो.

अपनी निजी या ज़रूरी (important) बातो को ऐसे लोगो से करने से बचे. अगर आपने ऐसे लोगो (peoples) को अपनी जरुरी बातें बता दी तो समझ लो की अब आपकी ये बातें निजी (personal) नहीं रही. ऐसे लोग इन बातो दूसरो को भी बता देते है. इन लोगो पर विश्वास न करे.

10 chanakya niti in hindi

अपने से कम या ज्यादा प्रतिष्ठा के लोगो से दोस्ती करे : Avoid Friendship With Younger and Famous Peoples

आचार्य चाणक्य (Acharya Chanakya) कहते है कि ” कभी भी उनसे मित्रता (friendship) मत कीजिये जो आपसे कम या ज्यादा प्रतिष्ठा (famous) के हों. ऐसी मित्रता कभी आपको ख़ुशी (happiness) नहीं देगी ”. जो लोग आपसे कम प्रतिष्ठा रखते है उनसे अगर आप दोस्ती (friendship) करोगे तो आप हमेशा परेशानी में ही रहेंगे.

ऐसे मित्र (friends) आपसे हमेशा मदद की उम्मीद रखेंगे और आपका फायदा (benefit) लेने की सोचेंगे. अगर आप कभी संकट में होंगे तो ऐसे मित्र आपकी कुछ मदद (help) भी नहीं कर पाएंगे.

वही आपसे अधिक प्रतिष्ठा (famous) के लोगो से दोस्ती करने पर आप हमेशा अपने मित्र (friend) के साथ अपनी तुलना में लगे रहेंगे और आपके अंदर ईर्ष्या (feeling od jealousy) का भाव रहेगा. आप उसके सामने खुद को हमेशा छोटा समझोगे जो आके आत्मसम्मान (self respect) के लिए ठीक नहीं है. अगर मुसीबत के समय कभी वह आपकी हेल्प (help) न कर पाए तो आपको अपनी मित्रता पर गुस्सा आएगा. इसलिए इस बात का ध्यान (remember this) रखे की आपका मित्र आपके लेवल का ही हो.

10 chanakya niti in hindi

वर्तमान में जीवन बिताओ : Spend Life in Present

आचार्य चाणक्य (Acharya Chanakya) कहते है ” हमें भूत के बारे में कभी भी पछतावा (guilty) नहीं करना चाहिए, न ही भविष्य की चिंता होनी चाहिए. विवेकवान (prudent) व्यक्ति हमेशा वर्तमान में जीते हैं ”. अगर आपको अपना जीवन सुखी (happy life) जीना है तो हमेशा आज में जियें.

आपके पास न तो आने वाला कल (future) है और न हीं बिता हुआ कल. आपके पास बस एक ही चीज (one thing) है वह है – आज. जो बीत गया उसके बारे में पछतावा (guilty) करते रहोगे तो खुद को ही दुखी करोगे.

बिता हुआ कल अब याद (remember) करके वापस तो आने वाला है नहीं. इसलिए बीते कल (past) के बारे में सोचना व्यर्थ है. अगर आप आने वाले कल (future) के बारे में सोचते हो तो वह भी आपको चिंतित ही करेगा. भविष्य (future) के बारे में सोचकर आप अपना आज ख़राब न करे.

आपके पास सिर्फ अभी का पल (enjoy present only) है इसलिए इसे जियें. इस पल को ऐसे कार्य में लगाये जो आपके जीवन को बेहतर (make life better) बनाये. आप अपने आज को सवारते रहो आपका आने वाला कल अपने आप सही (right) होता जायेगा.

10 chanakya niti in hindi

रामायण से जुडी 15 रहस्यमयी बाते जिन्हें दुनिया अभी भी नहीं जानती

अकबर बीरबल के 5 मजेदार किस्से

खुश रहना है तो लगाव से दूर रहे : To Be Happy, Stay Away From Attachment

आप मानो या न मानो (believe it or not) पर अधिकांश लोग आज खाने – पीने के लिए दुखी नहीं है बल्कि अपने रिश्तो (relations) के कारण दुखी रहते है. जिसका मन उसके साथ नहीं होता वह व्यक्ति (person) दुखी रहता है और इस दुःख का कारण है – लगाव.

आचार्य चाणक्य (Acharya Chanakya) कहते है ” जो अपने रिश्तो के साथ अत्यधिक जुड़ा (more attached) हुआ होता है, उसे भय और चिंता का सामना करना पड़ता है. सभी दुखों कि जड़ (root) लगाव है ”.

जब आप किसी के साथ लगाव (attachment) रखते हो तो आप माया – मोह के चक्र में फंस जाते हो और यही आपके दुखो (sadness) का कारण होता है. चाणक्य (Acharya Chanakya) की बातें वर्तमान माहौल में सटीक बैठती है. आजकल (these days) हमें देखने को मिलता है कि आज का युवा रिलेशनशिप (Relationship) में रहने लगा है.

अपनी नौजवानी की उम्र (age) में वह रिश्ते में रहने लगा है और जब इस रिश्ते में थोड़ी सी भी आपसी खींचतान या झगड़ा (fight) होता है तो वह तनाव लेकर बैठ जाते है. उसे अपने पार्टनर (partner) को खोने का भय रहता है और इस चिंता में वह टेंशन (tension) में डूबा रहता है.

वे खुद के लिए जीने के बजाय आपसी लगाव (attachment) में फंस जाते है. अगर यह लगाव नहीं होगा तो वह अपने लिए वक़्त (time) निकालेगा. खुद को Improve करेगा और अपने करियर में सफल (successful) होएगा. इसलिए आपको अगर अगर खुश रहना है तो उस रिश्ते (relations) से बाहर निकलने की सोचे जिससे आपको बहुत ज्यादा लगाव है.

दोस्तों, आप यह Article Prernadayak पर पढ़ रहे है. कृपया पसंद आने पर Share, Like and Comment अवश्य करे, धन्यवाद!!

घर बैठे कमाने के 8 तरीके – Make Money From Home

खतरे में है आपकी नौकरी, जानिए इन 7 संकेतो से

chanakya niti in hindi

26 Motivational Story In Hindi

American President Donald Trump Biography and Quotes in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *