Driving License information in Hindi - Driving License क्या है और Online Apply कैसे करे
HindiMe India News Internet

Driving License information in Hindi

Driving License information in Hindi – Driving License क्या है और Online Apply कैसे करे

नमस्कार दोस्तों, हम फिर से हाजिर है एक नए पोस्ट के साथ जिसमे आज हम आपको बताएँगे के Driving License क्या है, Driving License कैसे Online Apply करे और challan कितने प्रकार के होते है?

दोस्तों आपको Driving License क्या है के बारे में पहले से ही पता होगा या फिर आपने इसके बारे जरुर किसी न किसी से सुना होगा. परन्तु क्या आपको ये पता है Driving License Online Apply कैसे करे और ड्राइविंग लाइसेंस का होना इतना जरुरी क्यों है.

Friends, जैसे के हम जानते हैं आजकल के time में तो हर किसी के पास four wheeler या तो फिर two wheeler का होना जैसे compulsory सा ही है because आजकल की इस तेजी से भागती ज़िन्दगी में कोई भी साइकिल या रिक्शा से जाकर अपना वक़्त बर्बाद नहीं करना चाहता है!

इस बढती population में public transport का use करना सबके बस की बात नहीं है क्योंकि बस के सफ़र में भी अपने पर्सनल व्हीकल से ज्यादा ही वक़्त लगता है और हा र्कोई आजकल अपना वक़्त बचाना चाहता है.

और लोग खुद ही drive करना ज्यादा like करते हैं. लेकिन only buying vehicle ही सब कुछ नहीं है because उसे driving करने के लिए आपको State Government से driving license लेना पड़ता है.

पहले State Government की license authority branch आपकी driving sense check करेगी की आप road पर vehicle को चलाने लायक हो भी या नहीं, और फिर इसके बाद ही license authority आपको driving license देकर गाड़ी चलाने की permission देगी या नहीं ये तय करेगी.

इसी कारन से दोस्तों आपको इस Driving license की बहुत ही ज्यादा जरुरत पड़ने वाली है ताकि आप easily अपनी गाड़ी को without driving violation किये on road चला सकते हैं. लेकिन major बात अब आती है की कैसे हम इसे driving license Online apply करें.

दोस्तों आज आप इस पोस्ट में जानेंगे के Driving license क्या है और driving license Online apply कैसे करें के बारे में full detail में जान पायेंगे ताकि आप लोग driving license के बारे में अच्छे से जाने और दूसरों को भी इसके बारे में detail में बता और समझा सकते हैं. तो दोस्तों फिर देर किस बात की है, आइये शुरू करते हैं और जानते हैं की आखिर ये Driving license क्या होता है और कैसे बनता है.

ड्राइविंग लाइसेंस क्या है | What is Driving License

Driving license की बात करें तो ये एक ऐसा State given Official document हैं जिसे की Government of India द्वारा issue किया जाता है, जो पुरे देश में valid होता है, जिससे की लोगों को ये permit मिलती है की वो अपने vehicle चाहे वो car हो, motorbike हो, truck हो, bus हो या फिर कोई और दूसरा vehicle भी हो को on road officially चला सकते है.

India में driving license को issue उसी state के Regional Transport Authority (RTA) or Regional Transport Office (RTO) के द्वारा किया जाता है. Year 1988 में जारी की गयी Motor Vehicles Acts के तहत कोई भी Indian Citizen without Driving License के public road पर vehicle नहीं चला सकता. और अगर कोई ऐसा करते वक़्त पकड़ा गया तो उसे उचित fine जो की अब heavy fine में बदल चुका है, भी भरना पड़ सकता है.

यही reason है के यदि कोई citizen को on road पर अपनी गाड़ी चलानी है तो उसे firstly एक proper valid driving license प्राप्त करना होगा और तब जाकर वह इंसान आप अपना vehicle  legally चलाने के लायक होता है.

अगर आप एक new learner or driver हैं और अभी गाड़ी चलाना learn कर रहे हैं तो सबसे पहले आपको एक Learner License प्राप्त करना होगा, जिसके लिए आपका एक test होता है और फिर आप्कोया  6 months के लिए learner license मिलता है और उसके बाद आपको कुछ test भी देने होते है जिसमे पास होने के बाद आपको Driving License प्रदान किया जाता है.

कोई वक़्त था जब आपको driving license के चक्कर में RTO office में बहुत बार जाना पड़ता था और काफी वक़्त बर्बाद करना पड़ता था. परन्तु अब वक़्त बिलकुल ही बदल गया है और आप घर बैठे-बैठे ही अपना online Driving License apply कर सकते हैं.

क्या है टिक-टॉक? | What is Tik Tok?

LPG Gas क्या है और Online Booking कैसे करे

Types of Driving License in India | ड्राइविंग लाइसेंस कितने प्रकार के होते है?

आपके Vehicle के type, class के हिसाब से ही आपको light vehicle or heavy vehicle Driving License दिया जाता हैं. और different vehicles category के हिसाब से आपकी driving eligibility criteria भी change होती रहती है.

फ्रेंड्स, यहाँ नीचे मैं आपको ही कुछ popular vehicle classes के बारे में बताने जा रहा हूँ,  जिसकी driving license आप India में driving test देकर प्राप्त कर सकते हैं.

Vehicle Type

  1. Motorcycles with engine capacity of 50 cc or less than 50 cc.
  2. Motorcycles with gear, and जिसकी capacity of 50 cc or more, light class vehicle.
  3. Motor Vehicles (LMVs) including cars.
  4. All Motorcycles types including Motorcycle and scooter with gear.
  5. Motorcycles of any CC लेकिन जिसमें gears नहीं होती, which includes kinetic Honda, Activa and mopeds.
  6. Light Motor Vehicle for non-transport purposes.
  7. Light Motor Vehicle intended for commercial purposes.
  8. Heavy Passenger Motor Vehicle (also referred to as All India driving permit for trucks and cars or open license)

Heavy Goods Motor Vehicle

कुछ drivers जिनके पास heavy vehicle driving license है वो heavy trailer license के लिए apply कर सकते हैं.

ड्राइविंग लाइसेंस  के लिए पात्रता मापदंड | Eligibility for Driving License

India में Driving License के लिए मापदंड यानि के criteria की अगर बात करें तो ये उस vehicle के class के ऊपर depend करता है. Various types के Driving License के लिए eligibility criteria आपकी सुबिधा के लिए जिचे दी गयी है.

Type of Permanent Driving License – Eligibility Criteria

Motorcycles without gear वाले (with a capacity of up to 50 cc)

Applicant की age at least 16 years old होनी चाहिए और अगर वह 18 years से भी कम age का है तो उसके parent या guardians की रजामंदी होना must है.

Motorcycles or scooter with gear

 इसमें applicant की age at least 18 years old होनी चाहिए

Commercial Heavy Vehicles and Transport Vehicles

यहाँ applicant minimum 8th standard pass होना चाहिए. और applicant की उम्र at least 18 years old (या कुछ states में ये limit minimum 20 years होती है) होनी चाहिए.

General Requirement

Applicant को traffic rules and regulations के बारे में अवश्य पता होना चाहिए और इसके साथ applicant के पास valid age proof and address proof documents होना required है.

ज़िन्दगी के मायने समझाते 30 अनमोल विचार | 30 Life Quotes In Hindi

Driving License के लिए क्या Documents की जरुरत होती है?

यदि कोई Indian Citizen New Driving License के लिए apply कर रहा है तब applicant को अपने सारे documents को given time में concerned Authorities के पास जमा करवा देने चाहिए जिससे की सभी important required documents सही समय में available हो ताकि driving license की application process smooth और fast हो.

दोस्तों, यहाँ मैं आपको नीचे सभी documents के बारे में detail में mention कर रहा हूँ  ताकि आपको सारी तरह के documents को arrange करने में कठिनाई न हो.

ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनवाएं | How to get driving license

  • For Age Proof (इनमें से कम से कम कोई एक document चाहिए)
  1. Birth Certificate
  2. PAN Card
  3. Class 10th mark sheet
  4. Passport
  5. Transfer certificate from the school where you studied for any class with the date of birth printed on it.

Address Proof Required for DL:

  1. Aadhaar Card
  2. Passport
  3. Self-owned house agreement
  4. Electricity bill (issued in applicants name)
  5. Voter ID Card
  6. Ration card
  7. LIC Life Insurance or bond

Current Proof of address (anyone from the following):

  1. Rental agreement and LPG bill
  2. Rental agreement and electricity bill

Other requirements for Driving License:

एक सही तरीके से application form को fill किया जाना चाहिए (application form को अपने आप-पास के RTO से ला सकते हैं या फिर online portal से भी free download कर सकते हैं)

  1. 6 passport sized photographs (यदि आप Learners License के लिए apply कर रहे हैं)
  2. 1 passport sized photograph (यदि आप driving license के लिए apply कर रहे हैं)

Application Fees for Driving License:

अगर आप किसी और शहर में रहते हो तब आप अपने current address proof के तोर पर अपने rental agreement के साथ one recent utility bill copy जो की gas copy or bill या फिर electric bill भी प्रदान कर सकते हैं.

Medical Certificate – Form 1 A and 1 जिसे की किसी certified Government doctor के द्वारा ही approve किया जाता है.

जिन applicants की age 40 years से अधिक है उन्हें Medical certificate देना बेहद जरुरी होता है.

भारत सरकार ने यह बात कही है के ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) के लिए aadhar Card को पते और उम्र का प्रमाण (address and age proof) माना जाएगा. इस बाबत rules में संशोधन (amendment) के लिए भारत सरकार ने इस notification को draft में शामिल कर दिया है. इसके लिए केंद्रीय मोटर वाहन अधिनियन (Central motor vehicle act), 1989 में भी notification किया जाएगा.

Rajya Sabha में अपने written statement में Union Law Minister और Minister of Information Technology रविशंकर प्रसाद ने कहा कि ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) के applicants के लिए आधार कार्ड (aadhaar card) को पते व आयु प्रमाण के रूप में present किए जाने वाले options की list में शामिल किया गया है.

Ravishanker Prasad ने इसके लिए Ministry of Road Transport and Highways द्वारा प्राप्त information का हवाला दिया. साथ ही उन्होंने कहा कि यदि किसी applicant के पास आधार कार्ड (adhaar card) नहीं है, तो वह पासपोर्ट, birth certificate, जीवन बीमा पॉलिसी आदि optional documents भी पेश कर सकता है.

हाल ही में aadhar card data safety पर भी काफी serious questions खड़े किए गए थे, जिसके बाद यूआईडीएआई (UIDAI) को action में आना पड़ा था. गौरतलब है कि सरकार duplicate license से निपटने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस (driving license) को आधार से लिंक करवाने की तैयारी कर रही है.

Sarkari Naukri in Hindi | सरकारी नौकरी | Sarkari Job Vacancies

ऑनलाइन नया ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनवाए | How to Apply New Driving License Online

ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस (online driving license) बनवाना बहुत ही easy है. जो भी नए Applicants driving license लेना चाहते हैं तो उन्हें बस Google box में type करना है की “Apply driving license online” और ऐसा करने से आपके सामने “Sarathi website of the Road Transport and Highways Ministry” open हो जाएगी. और यहाँ पर आपको Choose करना है ‘New Driving License’ option को choose करना है जो की left side of page available रहता है.

और फिर इसके बाद यह आपको एक new page में redirect कर देगा जिसमें की आपको various information देखने को मिलेगी. यहाँ पर आपको forum choose करके information को fill करना है और फिर उस Form को proper way से fill करके उसको Submit करना है. इस process की full information आपको नीचे दी जा रही है.

Driving License बनवाने का Online Application Process क्या है

Friends, यहाँ में आपको Learner’s License or Driving License को online fill करने की complete information देने जा रहा हूँ. Please इस process को ध्यान से पढ़ें.

  1. सबसे पहले आपको Sarathi website को visit करना है और फिर download करना है driving license application form.
  2. Instructions checking के बाद आपको बताये हुई instructions के अनुसार उस form को fill करना है और click on ‘Submit’ button press करके form submit karna hai.
  3. Minor applicants (under 18 years) के case में आपको form का print out लेना है और Part D को fill up करने के बाद अपने parent/guardian की signature लेने के बाद उसे अपने local/nearby RTO में submit करना है. (Only for minor applicants, if you are not minor then check instructions from 4th point, this point is not for you). Thanks
  4. इसके साथ ही आपको अपने सारे documents को Application Form (proof of age, address proof, learner’s license number) के साथ Upload करें.
  5. और फिर Form को submit करने के बाद एक Web Application Number generate होगा, आपको उसे safe रखना है ताकि future में आप उसकी help से अपने Application की status को easily track कर सकते हैं.
  6. एक बार application processed हो जाने के बाद आपको एक notification आएगा जो के आपको एक SMS के द्वारा भेजा जायेगा.

WWE Wrestler John Cena Biography and Quotes In Hindi

Driving License का Offline Application Process क्या है

जैसे के Online Application process है वैसे ही Offline form filling processes भी बहुत ही easy है. यह procedure very simple और straightforward  है. यह पूरा procedure आपके लिए नीचे दिया जा रहा है, कृपया ध्यान से पढ़े और समझे.

सबसे पहले आपको एक Form 4 लाना पड़ेगा, जो के एक application form होता है motor vehicles driving license का India में. आप इस form को State Transport website से भी free download कर सकते हैं. या फिर अपने nearby RTO से भी ले सकते है.

अब आप अच्छे से फॉर्म पढ़ ले और proper way से form fill कर ले. और फिर उसे बाकी documents के साथ जैसे की Age proof and address proof को अपने form के साथ attach करके अपने निकटवर्ती RTO में submit करना है. इसके साथ आपको एक suitable timing Slot भी book करना पड़ेगा  के आप किस दिन और वक़्त जाकर अपना Driving License का test दें सकते है और फिर उसकी fees भी आपको submit करनी पड़ेगी.

जब आपको, आपके द्वारा selected slot time and date मिलेगी उस दिन आपको बिना देरी किये RTO office में test देने के लिए present रहना होगा, ज्यादा नहीं तो कम से कम 30 minutes पहले पहुंचा आपके लिए बेहतर होगा.

और फिर अगर आपने अपने test को successfully qualify कर लिया तो आपको driving license आपके registered address पर भेज दी जाएगी. यहाँ एक बात और याद रखने योग्य है के अगर आपके घर पर कोई license को accept नहीं करता है तो आप अपने driving license को RTO office से जाकर भी collect  कर सकते है.

अगर आप किसी driving school से गाडी चलाना सीख रहे हैं तो वही school आपको इन सारी driving license की process में help करेगी, जिससे के आपको driving license process में बहुत आसानी मिलेगी.

Driving License की Format

India में driving license का एक proper format होता है. उसके बारे में मैं आपको एक साधारण से example की help से proper way से समझाता हूँ. दोस्तों, अगर में आपसे कहूँ की अगर आप Chennai (South India) में रहते हैं और आपकी गाड़ी का नंबर है TN-04-2010-0007425 (I choose this number randomly just for reference purpose only).

इसमें पहले के two characters TN, और यह indicate करते हैं के आप किस state में अपनी गाडी को Register किया है. यहाँ पर इसका मत्ल्बा हैं, Tamil Nadu.

04 होता है city code.

2010 होता है वो year जब license को print करके applicant/ driver को दिया गया है.

यह सभी digits मिलकर ही applicant के लिए एक unique identification number बनाते है.

Driving License का Test Procedure क्या है

Driving License प्राप्त करने के लिए आपको driving के complete rules और regulation के बारे में पता होना बेहद ज़रूरी है. आओ चाहे तो Traffic Signals and rules के बारे में online search करके भ इदेख सकते है या फिर आपको RTO Office से rules and regulations के pamphlets free भी मिल जाते है.

आप Learners License के issue होने के 30 days के बाद permanent Driving License के लिए apply कर सकते हैं. आपको application को 180 days के अन्दर-अन्दर भरना होगा from the date of Learners License issued.

आपको सारे required documents को submit करना होता है और फिर fees भी given counter पर जमा करवानी पड़ती है. जहा आपको एक receipt मिलती है और फिर आपको एक allotted track cabin में जाना होता है और test देना होता है.

आपको Driving License test के लिए कम से कम 30 minutes to 1 hour पहले पहुंचना होता है.

अलग अलग states में अलग अलग rules होते हैं. लेकिन जो rules सभी states में same है वो है की आपको 8 के आकार में vehicle चलाना है वो भी पैरो द्वारा बिना ज़मीन को छुए. आपको गाडी के indicators का सही तरीके से use  करना पड़ता है परीक्षा को पास करने के लिए.

Big four wheeler vehicle driving license के लिए आपका गाडी चलाकर test लिया जाता है जिससे की वह आपके driving skills को check करते है और आपको driving के बीच-बीच में indicator का use करने के लिए कहेंगे, Brakes का use right way से करने के लिए कहेंगे और आपको उनके बताए गए directions, rules and regulation को right way से मानकर गाडी को चलाना पड़ेगा.

दोस्तों, यदि आप हमारी इस post में दिए गए दिशा-निर्देशों को सही रूप से समझकर उसका पालन करोगे तो यकीं मानिये आप निश्चित रूप से Driving License आसानी से पा लेंगे. आपका driving license Test देने के कुछ दिनों के अन्दर आपको आपके given registered post के द्वारा Driving License आपके Address में आपको पहुंचा दिया जाएगा.

जानिए रामायण से जुड़े गुप्त रहस्य | Secrets Of Ramayana in Hindi

Driving License lost होने पर क्या करना चाहिए?

दोस्तों अगर आपका Driving License कही खो गया है तो आपको घबराने की बिलकुल भी जरुरत नहीं है क्योंकि आप गम हुए driving license के बदले में आप new duplicate license के लिए apply कर सकते हैं. इसके लिए आपको कुछ directions को follow करना पड़ेगा.

उसके लिए आपको सबसे पहले अपने नजदीकी police station में जाएँ जहाँ आपका Driving License गम हो जाने की report  करवानी होगी.

वहां license के गम होने complaint registered करवाने के बाद आपके पास उस complaint (DDR/FIR) की एक original or photocopy होनी चाहिए ताकि आप उसका बाद में use कर सकें.

उसके बाद आप अपने शहर के Notary office में जाएँ और वहा बैठे typists से एक affidavit stamped paper में ready करवाए जिसके लिए आपको थोड़े charges pay करने पड़ेंगे. आपका वह affidavit आपके लिए एक proof के तरह काम करेगा जिसमें ये mention रहेगा की वाकई आपका Driving License खो गया है.

India में Driving License का होना इतना आवश्यक क्यों है?

दोस्तों, driving करने के लिए सारी दुनिया में कही भी गाडी चलानी हो तो driving license का होना बेहद ज़रूरी है. और ऐसा क्यों है वो मैं आपको अब नीचे बताने वाला हूँ.

  1. Driving License is an Important Document of Personal Identification

दोस्तों, हम जब भी कभी कहीं travel करते हैं या किसी कही किसी office में interview के लिए जाते है तो हमें वह अपना personal identification proof देने के बारे में पूछा जाता है. और ऐसा सही भी है क्योंकि id proof से ही हमारी identity पता चलती है और ऐसे में अगर आपके पास आपका driving license मोजूद हो तो आप उसका इस्तमाल identity proof के तौर पर भी कर सकते हैं. यही एक कारण है के आप driving licenses को so many places में personal identification के रूप में इस्तमाल कर सकते है.

  1. यातायात आसान बना देता है | Make Traveling Easy

आजकल के भीड़ भरे माहोल में तो एक जगह से दूसरी जगह जाने में बहुत सी problems को face करना पड़ता है और यह कभी कभी stressful  भी हो जाता है. और ऐसे में अगर आपके पास गाड़ी मोजूद है तो आपका काम बहुत ही आसान हो जाएगा.

  1. Vehicle on road चलाने के लिए driving license का होना बहुत जरुरी है

दोस्तों अगर सड़क पर legally गाड़ी चलाना चाहते है तो आपके पास valid driving license का होना बहुत ही आवश्यक है.

15 Simple Tips to build confidence in kids

FAQs on Driving License | Driving License से जुड़े सवाल और जवाब

  1. Driving license की application process की starting कैसे होती है?

अगर आपको driving license चाहिए तो उस से पहले आपके पास learner License का होना बेहद जरुरी है क्योंकि learner license होने के बाद ही आप driving license बनवा सकते हैं. इसके लिए आपको driving license Online या फिर Offline apply करना पड़ेगा, और इसके बारे में आप ऊपर पढ़ ही चुके होंगे.

  1. अगर मैंने driving license को Hyderabad या Chandigarh से बनवाया है क्या मेरा driving license पूरे देश में valid है?

जी हाँ दोस्तों, आपका Driving License देश में कह इसे भी बना हो वो पूरे देश में सभी जगहों पर 100% valid है.

  1. Driving License कितने समय के लिए Valid होता है?

दोस्तों, Generally, India में driving licenses शुरू में 20 years के लिए valid होता हैं, उसके बाद आप इसे renew करवा सकते है, पर renew होने के बाद वो 20 years के लिए नहीं होता, वो जगह जगह के हिसाब से 10, 15 or 20 years के लिए valid होता है. इसमें कई साड़ी बाते देखि जाती है, जैसे की applicant की age, उसके पिछले लाइसेंस में कितने चाललं कटे है, उसकी अब की दिमागी हालत इत्यादि.

  1. क्या driving license बनवाने के लिए medical certificate का होना जरुरी है?

अगर आपकी उम्र 50 years से less है और आप non–transport license के लिए apply कर रहे हैं तो उस situation में आपको Medical license की कोई जरूरत नहीं है. लेकिन अगर आप 50 years से ज्यादा है तब आपको medical certificate की कापी जमा करवानी पड़ती है.

और वैसे ही Transport vehicle License के लिए तो medical certificate को प्रदान करना अत्यंत जरुरी है चाहे आप किसी भी आयु के हों.

  1. अगर कोई applicant driving license test में fail हो जाता है तो क्या होता है?

अगर कोई applicant  इस test में fail हो जाते हैं तब वह test के लिए 7 दिनों के बाद दोबारा re-test के लिए apply कर सकते हैं.

26 Motivational Story In Hindi

DL और LL की fees

आप driving license की fees को either SBI challan या फिर Online payment के द्वारा भर सकते हैं. मैंने निचे सभी License के Fees के बारे में mention कर दिया है.

Type of License                   Fee (in Rupees)                           Revised Fee – August – 2019

Learner’s License                 Rs. 50 – Rs. 100 per license             Rs.500.00

Driving License                     Rs.100.00                                           Rs.500.00

Driving license for commercial vehicle      Rs. 500.00                  Rs.1500.00

International Driving License fee    Rs.1000.00                             Rs.2500.00

DL Renewal Fee                    Rs.250.00                                           Rs.1000.00

LL Renewal Fee                     Rs.100.00                                           Rs.500.00

Learner License

Learner License की Eligibility क्या है?

आपके motor vehicle के type and category के अनुसार ही आपको Learner License दिया जाता है. नीचे में आपको इसके बारे में बता रहा हूँ.

Type of Learner’s LicenseEligibility Criteria

Motorcycles with gear:

The candidate must be at least 18 years of age.

Motorcycles without gear with up to 50 cc capacity:

The candidate must be at least 16 years of age. For candidates less than 18 years of age the consent from the guardian or parent is very important.

General Requirement for obtaining a Learner License:

The Learner License applicant must be properly known with traffic rules and regulations. The applicant must have a valid address proof & age proof documents.

Commercial Heavy Vehicles and Transport Vehicles:

The applicant must have finished 8th standard of schooling. The applicant must be at least 18 years old. In some states, the minimum age requirement is 20 years होना आवश्यक है.

Difference between Driving License (DL) and Learner’s License (LL)

अगर India की बात करे तो यहाँ two types of Driving License को issue किया जाता है. एक है Learner License और दूसरा है Permanent License. अगर Learner License की बात आकरे तो वो केवल six months के लिए valid होता है, और यह उनको दिया जाता है जो के पहली बार गाड़ी चलाने वाले होते हैं या फिर गाडी चलाना सीख रहे होते हैं.

अगर किसी को permanent Driving License की requirement होती है तब उसे इसके लिए driving test देना पड़ता है. और यह Learner License मिलने के 1 month के बाद ही possible होता है. आप इसे ऐसे भी कह सकते है के दोनों की application को apply करने के बीच में कम से कम one month gap होना very important है.

Free Movies Download Websites List

अब 16 साल की उम्र में ही बनवा सकेंगे Driving License

दोस्तों, हम में से कई लोग कम age में ही bike and scooter चलाना सीख लेते हैं लेकिन 18 years से पहले driving करने पर काफी रोक-टोक की जाती है। वह इसलिए क्योंकि driving license की minimum age 18 साल ही निर्धारित की गई है।

हालांकि अब जल्दी ही 18 साल से कम उम्र के बच्चो के लिए खुशखबरी आने वाली है के  अब उन्हें 16 साल की उम्र में ही गियरलैस स्कूटर (gear less scooter) चलाने का लाइसेंस मिल सकेगा।

रोड ट्रांसपोर्ट और हाईवेज मिनिस्ट्री (Road Transport and Highways Ministry) के राज्य मंत्री P. RadhaKrishnan ने इस बात की पुष्टि की कि यह offer रखा गया है कि 100 C.C. से कम वाले गियरलैस स्कूटर्स (gear less scooter) के लिए लाइसेंस 16 साल की age के बाद से ही जारी किए जाएं।

Government sources से मिली जानकारी के मुताबिक, 16 वर्ष की age में बनने वाले driving license धारक केवल 50 सीसी वाली E-Bikes या E-Scooter चालने के लिए valid होगा. और इन two wheeler की स्पीड 70 किलोमीटर प्रतिघंटा से excess नहीं होनी चाहिए. Vehicle की engine क्षमता 4.0 किलोवॉट तक limited होगी.

Notification जारी होने के बाद State Governments मोटर वाहन अधिनियम 1989 के rules में बदलाव कर किशोरों का ड्राइविंग लाइसेंस (driving license) बनवाने की प्रक्रिया शुरू करेंगी.

चालान कितने प्रकार के होते है? | Challan kitne types ke hote hai?

तीन तरह के होते हैं ट्रैफिक चालान (traffic challan), जानिए पकड़े जाने पर क्‍या कर सकती है ट्रैफिक पुलिस!

ट्रैफिक कॉन्स्टेबल (traffic constable) को किसी प्रकार के चालान काटने या जुर्माना (penalty) वसूलने की permission नहीं है। वह केवल गाड़ी का नंबर नोट (number note) करके Senior को देता है तथा उसी के कहने पर चालान की पर्ची (challan receipt) काटकर दे सकता है।

सड़कों पर fast speed के साथ vehicle चलाने वाले तथा rule तोड़ने वाले drivers सड़कों की कानून व्यवस्था से भलीभांति परिचित (well known) होंगे। लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि इस व्यवस्था के under काटे जाने वाले चालान (challan) कितने प्रकार के होते हैं।

यह Traffic system के किन officers द्वारा काटे जा सकते हैं। कौन सा officer किस हिसाब से चालान वसूल (challan cut) कर सकता है। आइये जाने के आखिर road safety and rules को control करने वाली यह traffic system कैसे काम करती है।

ब्लैक फ्राइडे इतिहास और रोमांचक बातें | Black Friday History and Facts

चालान तीन प्रकार के होते हैं| 3 Types of Challan

ऑन द स्पॉट चालान | On The Spot Challan

यह challan तब काटा जाता है जब rule break वाले चालक को traffic police रंगे हाथों पकड़ती है। साथ ही challan थमाकर पैसे वसूल लेती है। ऐसे में इसकी receipt अवशय लें और यदि व्यक्ति मौके पर challan नहीं भर पाते तो पुलिस उन्हें challan थमाकर डीएल जब्त कर लेती है। फिर उस person को दी गई तारिख पर court जाकर penalty भरकर D.L छुड़ाना होता है ।

नोटिस चालान | Notice Challan

यह challan उन drivers के लिए है जो सड़क के rules violate कर मौके से फ़रार हो जाते जाते हैं। ऐसे में traffic police इनकी vehicles के नंबर नोट कर challan रजिस्टर्ड पते पर भेज देती है। इसे नोटिस चालान (notice challan) कहते हैं।

इसमें penalty भरने की time limit एक महीने तक की होती है अन्यथा challan court में भेज दिया जाता है। हालाँकि यह challan traffic police के local office जाकर भी भरा जा सकता है।

कोर्ट के द्वारा चालान | Challan by Court

दोस्तों, यहाँ आपको बता दें कि कुछ challan ऐसे भी होते हैं जो केवल court द्वारा ही काटे जाते हैं। यह वे challan होते हैं जिनमे punishment और penalty दोनों की possibility होती है। यह challan serious crime स्थिति में काटे जाते हैं जैसे: drunk and drive, उच्चतम न्यायलय के उललंघन या permit के उल्लंघन etc.

जानने जोग्य यह बात है कि इन challan में मौके पर penalty नहीं वसूला जाता है। बल्कि यह challan कोर्ट द्वारा ही काटे जाते हैं तथा penalty भी court जाकर ही भरना पड़ता है।

8 क्षेत्र जहां है नौकरी के खूब मौके – 8 Job Opportunities Area

एमबीए में काम आएँगी यह 6 टिप्स – 6 MBA Study Tips

कौन से ट्रैफिक अधिकारी काट सकते हैं चालान और कितने तक का?

ट्रैफिक कॉन्स्टेबल (traffic constable) को किसी प्रकार के challan काटने या penalty वसूलने की permission नहीं है। वह केवल गाड़ी का नंबर note करके permission को देता है तथा उसी के कहने पर challan की slip काटकर दे सकता है।

वहीं Head Constable को 100 रूपए तक का जुर्माना लगाने का अधिकार है। केवल एएसआई (Assistant Sub Inspector) तथा एसआई (Sub Inspector) को ही 100 रूपए से अधिक जुर्माना लगाने की permission प्राप्त है।

दोस्तों, आप यह Article Prernadayak पर पढ़ रहे है. कृपया पसंद आने पर Share, Like and Comment अवश्य करे, धन्यवाद!!

Aadhar Card क्या है?

150 रोचक तथ्य – 150 Interesting Facts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *