Motivational Story- Roshni ki Kiran – प्रेरणादायक कहानी – रौशनी की किरण

Motivational Story- Roshni ki Kiran – प्रेरणादायक कहानी – रौशनी की किरण

रोहित आठवीं कक्षा का छात्र (student) था। वह बहुत आज्ञाकारी था, और हमेशा औरों की मदद के लिए तैयार (ready to help others) रहता था। वह शहर के एक साधारण मोहल्ले (local area) में रहता था , जहाँ बिजली के खम्भे (poll) तो लगे थे पर उनपे लगी लाइट सालों से खराब थी और बार-बार कंप्लेंट (complaint) करने पर भी कोई उन्हें ठीक नहीं करता था।

Gold Plated Cuff & Kadaa Bangle Twins Design for Women and Girls

रोहित अक्सर सड़क (road) पर आने-जाने वाले लोगों को अँधेरे के कारण परेशान (problem) होते देखता , उसके दिल में आता कि वो कैसे इस समस्या  (solve the problem) को दूर करे। इसके लिए वो जब अपने माता-पिता या पड़ोसियों (neibhours) से कहता तो सब इसे सरकार (government) और प्रशाशन की लापरवाही कह कर टाल देते।

ऐसे ही कुछ महीने (few months) और बीत गए फिर एक दिन रोहित कहीं से एक लम्बा सा बांस (bamboo) और बिजली का तार (eletric wire) लेकर और अपने कुछ दोस्तों की मदद से उसे अपने घर के सामने (front of house) गाड़कर उसपे एक बल्ब (bulb) लगाने लगा। आस-पड़ोस के लोगों ने देखा तो पुछा , ” अरे तुम ये क्या कर रहे हो ?”

“मैं अपने घर के सामने एक बल्ब जलाने का (trying) प्रयास कर रहा हूँ ?” , रोहित बोला।

“अरे इससे क्या होगा , अगर तुम एक बल्ब लगा भी लोगे तो पुरे मोहल्ले में प्रकाश (light in who;e area) थोड़े ही फ़ैल जाएगा, आने जाने वालों को तब भी तो परेशानी (face the problem) उठानी ही पड़ेगी !” , पड़ोसियों ने सवाल उठाया।

Antique and Traditional Silver Plated Oxidized Bangles Set For Girls and Women

रोहित बोला , ” आपकी बात सही (correct) है , पर ऐसा कर के मैं कम से कम अपने घर के सामने (near my house) से जाने वाले लोगों को परेशानी से तो बचा ही पाउँगा। ” और ऐसा कहते हुए उसने एक बल्ब वहां टांग (hang the bulb) दिया।

रात को जब बल्ब जला तो बात पूरे मोहल्ले (whole area) में फ़ैल गयी। किसी ने रोहित के इस कदम (step) की खिल्ली उड़ाई तो किसी ने उसकी प्रशंशा (appraise) की। एक-दो दिन बीते तो लोगों ने देखा की कुछ और घरों के सामने लोगों ने बल्ब (hang the bulb) टांग दिए हैं। फिर क्या था महीना बीतते-बीतते पूरा मोहल्ला प्रकाश से जगमग (shine) हो उठा। एक छोटे से लड़के के एक कदम ने इतना बड़ा बदलाव (big change) ला दिया था कि धीरे-धीरे पूरे शहर (whole city) में ये बात फ़ैल गयी , अखबारों (newspaper) ने भी इस खबर को प्रमुखता से छापा और अंततः प्रशाशन को भी अपनी गलती का (feel their mistake) अहसास हुआ और मोहल्ले में स्ट्रीट-लाइट्स (street lights) को ठीक करा दिया गया।

Latest Fashion Gold Plated Metal and Zircon Bangle Kada Set of 2

Dosto, कई बार हम बस इसलिए किसी अच्छे काम को करने में संकोच (hesitation) कर जाते हैं क्योंकि हमें उससे होने वाला बदलाव बहुत छोटा प्रतीत (shows small change) होता है। पर हकीकत में हमारा एक छोटा सा कदम (small step) एक बड़ी क्रांति का रूप लेने की ताकत (power) रखता है। हमें वो काम करने से नहीं चूकना चाहिए जो हम कर सकते हैं। इस कहानी में भी अगर रोहित के उस स्टेप (because of rohit) की वजह से पूरे मोहल्ले में रौशनी नहीं भी हो पाती तो भी उसका वो कदम (his step) उतना ही महान होता जितना की रौशनी हो जाने पर है। रोहित की तरह हमें  बदलाव होने का इंतज़ार नहीं (never wait for change) करना चाहिए बल्कि, जैसा की गांधी जी ने कहा है , हमें खुद वो बदलाव बनना (change yourself) चाहिए जो हम दुनिया में देखना चाहते हैं, तभी हम अँधेरे में रौशनी की किरण फैला (shine in nights) सकते हैं।

, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *