तुम, पुरुषार्थ और भगवान - Bhagwan Krishan ki Kahani
Hindi Kahani Hindi Story

तुम, पुरुषार्थ और भगवान – Bhagwan Krishan ki Kahani

तुम, पुरुषार्थ और भगवान – Bhagwan Krishan ki Kahani एक बार भगवान कृष्ण भोजन कर रहे थे। रुक्मिणी पंखा झल रही थीं। एकाएक भोजन की थाली छोड़ कर दौड़ पड़े भगवान्। द्वार तक आये। फिर रुक गये। कुछ बुझे मन से. उदास-उदास से लौट आये और भोजन करने लगे। (Bhagwan Krishan ki Kahani) रुक्मिणी ने […]