शिव स्तुति - Shiv Stuti
Bhajan Dharmik

शिव स्तुति  – Shiv Stuti

शिव स्तुति  – Shiv Stuti श्री शिव स्तुति  – Shiv Stuti इस शिव स्तुति से करें प्रभु के हर रूप का ध्यान… जय शिवशंकर, जय गंगाधर, करूणाकर करतार हरे। जय कैलाशी, जय अविनाशी, सुखराशी सुखसार हरे। जय शशिशेखर, जय डमरूधर, जय जय प्रेमागार हरे। जय त्रिपुरारी, जय मदहारी, नित्य अनन्त अपार हरे। निर्गुण जय जय […]